सीएम गहलोत ने चुने हुए अध्यक्ष को 'एक व्यक्ति-एक पद' सिद्धांत से बाहर बताया।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत दिल्ली पहुंच गए हैं। दिल्ली में उनकी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से दो घंटे लंबी चर्चा हुई। इसके बाद गहलोत ने दिल्ली में मीडिया से बात करते हुए साफ कहा कि उदयपुर में हमने एक व्यक्ति एक पद का सिद्धांत लागू किया था, लेकिन यह सिद्धांत चुनाव लड़कर पद पर जाने से नहीं होता है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव सबके लिए ओपन है और किसी प्रदेश का मंत्री अगर चाहे कि वह यह चुनाव लड़े तो वह दोनों पदों पर रह सकता है। गहलोत ने साफ संकेत दिए कि अगर वह अध्यक्ष बन भी जाते हैं तो भी राजस्थान के मुख्यमंत्री की कुर्सी साथ में संभालेंगे। सीएम गहलोत ने कहा कि मुझे मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी मिली है, जिसे मैं निभा रहा हूं और निभाता रहूंगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack