मर्यादा हुई तार-तार, प्रोपर्टी के लिए बेटों ने वृद्ध मां के साथ की मारपीट, थाने पहुंची पीड़िता।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जयपुर में प्रोपर्टी हड़पने के लिए कलयुगी बेटों के मां को प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है। बुजुर्ग मां को अपने से दूर करने के लिए गाली-गलौच के साथ मारपीट पर उतर आए। अपने ही बच्चों की प्रताड़ना और पिटाई से परेशान बुजुर्ग मां ने अशोक नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई। सरोजनी मार्ग सी-स्कीम निवासी लता देवनानी ने अशोक नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई। उसके पति भगवान देवनानी की हार्ट अटैक से वर्ष 2005 में मौत हो गई। इसके बाद बड़ा बेटा जयंत और छोटा बेटा भीष्म दोनों मां को छोड़कर चले गए। लता पति की बेडशीट की फैक्ट्री संभालने लगीं। इसके बाद कोरोनाकाल में भीष्म वापस घर लौट आया। इसके बाद बड़े बेटे को भी फोन कर वापस घर बुला लिया। लता ने करीब 700 वर्गगज के मकान को तीन हिस्सों में बांट दिया। एक हिस्से में बड़ा बेटा जयंत, दूसरे में छोटा बेटा भीष्म और तीसरे में वह अकेली रहती है। लता देवनानी का आरोप है कि प्रोपर्टी को हड़पने के लिए दोनों बेटों की नियत बिगड़ गई। 10 जुलाई को बेटे भीष्म ने उसकी दीवार तोड़ दी, जिससे पानी की सप्लाई भी टूट गई। उसके पति की बनाई प्रोपर्टी पर खुद हक जमाने लगे।उसको प्रोपर्टी से बाहर करने के लिए पानी बंद करने के साथ अलग-अलग तरीके से प्रताड़ित करने लगे। गंगापोल रोड पर 2 हजार वर्गगज जमीन को भी हड़प लिए। प्रोपर्टी के लिए बुजुर्ग मां को देखकर भी दिल नहीं पसीजा। इसके बाद महिला ने 30 जुलाई को अशोक नगर थाने में मामला दर्ज करवाया। एसएचओ अशोक नगर विक्रम सिंह ने कहा कि सुरक्षा को खतरा और बेटे भीष्म के मारपीट करने की बात को लेकर रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। परिवारिक मामला होने के कारण पहले सुलझाने का प्रयास किया। सिक्योरिटी के जो भी इशू थे, उसे पूरा करवाया । बुजुर्ग लता देवनानी ने बेटे भीष्म के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग रखी। बेटे भीष्म के खिलाफ चाटशीट पूरी कम्पलीट है। जल्द ही चालान कोर्ट में पेश किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack