पुष्कर में जूते दिखाने का ठीकरा चांदना ने पायलट पर फोड़ा, कड़े शब्दों में दी चेतावनी।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
अजमेर जिले के पुष्कर में कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे राजस्थान के खेल मंत्री अशोक चांदना को न केवल विरोध का सामना करना पड़ा बल्कि भीड़ में से कुछ लोगों ने उनको जूते भी दिखाए। यही नहीं मंच पर बोतलें भी फेंकी। नाराज अशोक चांदना ने हुई इस घटना के लिए न केवल सचिन पायलट को जिम्मेदार ठहराया बल्कि चेतावनी भरे शब्द भी कह डाले।
घटना के बाद अशोक चांदना ने दो ट्वीट किये है। पहले ट्वीट मे उन्होंने कहा कि 72 शहीदों को मारने के आदेश देने वाले तत्कालीन मंत्रिमंडल सदस्य राजेंद्र राठौड़ के मंच पर आने पर तालियां बजीं और जिसके परिवार के लोग आंदोलन में जेल गए उन पर जूते फेंके गए। जिस मंच पर जूते फेंके गए उस पर शहीदों के परिवार जन बैठे थे। कम से कम उनका तो ख्याल कर लेते।कर्नल साहब की अंतिम स्मृति को ऐसे कलंकित करने वाले लोग कितना दूर तक जाएंगे?
यह तो वक्त बताएगा।
वहीं उन्होंने इसी मामले पर दूसरा ट्वीट कर कहा कि मुझ पर जूता फेंकवाकर सचिन पायलट यदि मुख्यमंत्री बन सकें तो जल्दी बन जाए क्योंकि आज मेरा लड़ने का मन नहीं है। जिस दिन मैं लड़ने पर आ गया तो फिर एक ही बचेगा और यह मैं चाहता नहीं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack