ऊर्जा सलाहकार बोले-कृषि कनेक्शन जारी करने के कार्य को दी जाए प्राथमिकता।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री की बजट घोषणा व जनघोषणा के अनुरूप किए जाने वाले कार्यों की प्रगति की समीक्षा हेतू वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में ऊर्जा सलाहकार ए.के. गुप्ता द्वारा जयपुर डिस्कॉम के उच्चाधिकारियों से चर्चा की और बजट घोषणा के अनुसार कृषि कनेक्शन जारी करने के कार्य की प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुए लम्बित कृषि कनेक्शनों को 30 सितम्बर, 2022 तक जारी करने का सुझाव दिया ताकि आगामी रबी की फसल में किसानों को इसका लाभ मिल सके। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 में 10906 कनेक्शनों में से 6235 कनेक्शन जारी हो चुके है और 2570 कनेक्शन ऐसे है जो राईट ऑफ वे (ROW) या मौके पर ट्यूबवैल नही होने की वजह से जारी नही हो सकते है। शेष 2101 कनेक्शनों को 30 सितम्बर तक जारी कर दिया जाएगा जिसके लिए आवश्यक सामान उपलब्ध करवा दिया गया है। विवादित कनेक्शनों के मामलों में कनिष्ठ अभियन्ता द्वारा मौके पर जाकर इसकी रिपोर्ट तैयार कर सत्यापित की जावे और इस रिपोर्ट को सहायक अभियन्ता एवं अधिशाषी अभियन्ता द्वारा प्रमाणित करने के उपरान्त सम्बन्धित आवेदक को नोटिस जारी करने की कार्यवाही की जावे। उन्होने कहा कि रबी सीजन मे किसानोें को निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए पर्याप्त मात्रा में ट्रांसफार्मर स्टोर में रखे जायें, जिससे ट्रांसफार्मर खराब होने की स्थिति में निर्धारित समय में इसे बदलने की व्यवस्था हो सके। उन्होने कहा कि कॉल सेन्टर एवं हेल्प डेस्क में दर्ज होने वाली उपभोक्ता शिकायतों का नियमित रूप से विश्लेषण किया जाये और यह भी देखा जाये कि रिपीट होने वाली शिकायतें कितनी है और इसके क्या कारण है एवं कारणों का पता लगा कर उसे दूर करने के प्रयास किये जाये। विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए चिन्हि्त हाई रिस्क पॉईन्ट्स के सुधार का कार्य प्राथमिकता से किया जाये और आमजन को जागरूक किया जाये की वे स्वयं अपने स्तर पर विद्युत तंत्र से छेड़छाड़ का प्रयास न करें। यदि कोई समस्या है तो कॉल सेंटर या नजदीक के विद्युत कार्यालय में उसकी शिकायत दर्ज करवाये। अप्रेल, 2023 से जयपुर डिस्कॉम के सभी जिलों में किसानों को कृषि कार्य के लिए दिन के 2 ब्लॉक में बिजली आपूर्ती के लिए विद्युत तंत्र के सुदृढीकरण व अन्य आवश्यक कार्य की प्रगति की समीक्षा भी बैठक में की गई। जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक अजीत कुमार सक्सैना ने संभागीय मुख्य अभियन्ता व सभी सर्किलों के अधीक्षण अभियन्ताओं को निर्देश दिए कि बजट घोषणा की पालना को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए और बैठक के दौरान दिये गये निर्देशों की पालना सुनिश्चित की जावे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack