चितौड़गढ़ में बेमौसम बारिश से फसलों को 10-30% तक हुआ नुकसान।

चितौड़गढ़ ब्यूरो रिपोर्ट।
चित्तौड़गढ़ जिले में बेमौसम बारिश के कारण किसानों के खेतों में खड़ी व कटी हुई फसलों में नुकसान होने से किसानों ने जिला कलक्टर अरविंद कुमार पोसवाल को ज्ञापन प्रस्तुत किये। इस पर जिला कलक्टर ने त्वरित कार्यवाही करते हुये जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारी एवं तहसीलदार को निर्देशित किया गया कि अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण कर 7 व 8 अक्टूबर 2022 को हुई बेमौसम बारिश के कारण किसानों के खेतों में खडी तथा कटी हुई फसलों में हुये नुकसान का आंकलन कर रिपोर्ट भिजवाई जावे। इस क्रम में समस्त उपखण्ड अधिकारी व तहसीलदार जिला चित्तौड़गढ़ से प्राप्त रिपोर्ट अनुसार फसल सोयाबीन में अधिकतम 25 से 30 प्रतिशत, मक्का में 10 से 15 प्रतिशत,ज्वार में 15 से 20 प्रतिशत,मुगंफली में 15 से 20 प्रतिशत तथा उडद व मूंग में 10 से 15 प्रतिशत का नुकसान होना बताया गया है। इस पर जिला कलक्टर द्वारा  किसानों से अपील की है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत किसान अपनी बीमित फसल में हुये नुकसान के क्रम में जिले में कार्यरत बीमा कम्पनी यूनिवर्सल सोम्पो जनरल इंशयोरेन्स कम्पनी लिमिटेट के टोल-फ्री नम्बर 18002005142 पर अपनी शिकायत 72 घण्टों के अन्दर-अन्दर दर्ज कराई जाकर राहत प्राप्त की जा सकती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack