मिट्टी की ढाय ढ़हने से 6 जनों की मौत, तीन घायल।

सपोटरा-विनोद कुमार जांगिड़।
करौली जिले के उपखंड सपोटरा की ग्राम पंचायत सिमर के मेंदपूरा गांव में सोमवार को दिल दहलाने वाला हादसा सामने आया है। जहां मिट्टी की ढाय ढहने से एक साथ तीन महिलाओं सहित तीन बालिकाओं की मौत हो गई। वहीं अन्य एक महिला सहित दो बच्चियां घायल हो गई। जिनका उपचार जारी है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी मौके के लिए रवाना हो गए हैं। 
ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार सपोटरा उपखंड की ग्राम पंचायत सिमर के मेदपुरा गांव की महिलाएं और बच्चें दोपहर बाद अपने खेतों की ओर जा रहे थे। तभी कच्चे रास्ते से गुजरने पर अचानक से मिट्टी की ढाय गिर गई। जिसके कारण एक साथ 5 जनों की मौके पर ही मौत हो गई और 4 जने घायल हो गये। जहा उपचार के दौरान एक महिला की मौत हो गई। वही एक महिला सहित दो बच्चियों का उपचार जारी है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत सिमर के मेदपुरा गांव निवासी गोपाल की पत्नी और बच्चे सहित कई अन्य महिलाएं अपने खेतों में काम करने के लिए रास्ते से गुजर रही थी। तभी अचानक से मिट्टी की ढाय गिरी जिसके कारण रास्ते से गुजरने वाली महिलाएं और बच्चियां मिट्टी में दब गई। मृतकों में गोपाल माली की धर्मपत्नी रामनरी सहित उसकी 3 बच्चियों की मौत हो गई। वही साथ मे मौजूद राजेश की धर्मपत्नी और केशन्ती की मौत होना बताया जा रहा है। सूचना पर पुलिस प्रशासन घटनास्थल पर पहुंचा है। घटना से इलाके मे सनसनी फैल गई है।
मिट्टी खोदने की वजह से हुआ हादसा।
मिट्टी के टीले के नीचे दबने से घायल महिला रामगल्ला सैनी ने बताया कि दीपावली त्योहार के मद्देनजर घरों की लिपाई पुताई का कार्य चल रहा है। इसी के चलते सभी लिपाई पुताई के लिए मिट्टी धोने गई थी। तभी मिट्टी का टीला ढह गया और मिट्टी के टीले के नीचे दबने से 5 जनों की मौके पर ही मौत हो गई। जिला कलेक्टर अंकित कुमार सिंह ने बताया कि घटना दुखद है। घटनास्थल पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया है। पांच मृतकों के अंतिम संस्कार की कार्रवाई करवा दी गई है। बाद में उपचार के दौरान मृतक एक महिला की भी पोस्टमार्टम की कार्रवाई करवा दी गई है। तीन घायलो का उपचार जारी है। सभी मृतकों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack