मंत्रियों ने आधा दर्जन से अधिक विकास कार्यों का किया लोकार्पण व शिलान्यास।

अलवर ब्यूरो रिपोर्ट।
कृषि एवं पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री शकुन्तला रावत एवं राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह राठौड ने अलवर जिले के बानसूर के ग्राम बिलाली में करीब 7 करोड रूपये की लागत के करीब आधा दर्जन से अधिक विकास कार्यों का लाकार्पण व शिलान्यास किया। अतिथियों द्वारा ग्राम बिलाली में करीब 1.75 करोड रूपये की लागत बने राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, 12 लाख रूपये की राशि से बने राजकीय पशु चिकित्सा उपकेंद्र के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण किया। इसी प्रकार 1 करोड 64 लाख रूपये की लागत से बनने वाले उच्च माध्यमिक विद्यालय भवन का शिलान्यास किया। उन्होंने 1 करोड 31 लाख रूपये की लागत से बिलाली से बडागांव तक व ज्ञानपुरा से कराणा तक की सडक का लोकार्पाण किया। वहीं 2 करोड 8 लाख रूपये लागत से बनने वाली बिलाल से जैतपुर व बिलाली से नवलपुरा-रतनपुरा होते हुए कराणा स्कूल तक की सडक का शिलान्यास किया। 
इनकी की घोषणा।
मंत्रीगणों ने ग्राम बिलाली में बिजली पावर ग्रिड (जीएसएस) स्वीकृत कराने, राजकीय पशु उपकेंद्र को राजकीय पशु चिकित्सालय में क्रमोन्नत करवाने व इसकी चार दीवारी एवं बोरिंग करवाने, गांव में खेल स्टेडियम बनवाने, पीएचसी को आदर्श पीएचसी बनाने, पटवार मंडल भवन निर्माण कराने, राजकीय प्राथमिक विद्यालय नवलपुरा को क्रमोन्नत कराने, किसान सेवा केंद्र भवन बनवाने एवं नवलपुरा से खरवा की ओर डामरीकरण नोन पेचेबल सडक बनवाने व ग्राम बिलाली के तीन आम रास्तों में सीसी सडक बनवाने की घोषणा कर कहा कि प्राथमिकता के आधार पर एक-एक कर सभी घोषणओं को 6 माह में पूरा कराने प्रयास रहेगा। कृषि एवं पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा अपनी बजट घोषणा में सभी वर्गों को विशेष तरजीह दी गई है। उन्होंने कहा कि किसानों की आमदनी में वृद्धि करने के उद्देश्य से देश में पहली बार किसी राज्य सरकार ने आम बजट से अलग कृषि बजट पेश किया है जो कृषि क्षेत्र के लिए बहुत लाभप्रद साबित हुआ है। उन्होंने कहा कि पशुओं में फैली लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम में राज्य सरकार, भामाशाहों, किसानों व आमजन के समन्वित प्रयासों से प्रदेश में बेहतर प्रबंधन रहा है। उन्होंने कहा कि पशुपालकों के हितों को ध्यान में रखते हुए राज्य स्थानीय स्तर पर पशु चिकित्सा केंद्र खोले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पंजीकृत गोशालाओं में अनुदान 6 माह से बढाकर राज्य सरकार ने 9 माह तक का किया है। उन्होंने आमजन से कहा कि जागरूक रहकर राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ उठाए। उन्होंने कृषि व पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिलाली व आसपास के क्षेत्र में विशेष संयुक्त शिविर लगाकर किसानों को न केवल सरकारी योजनाओं की जानकारी देवे बल्कि मौके पर ही पात्र किसानों को योजनाओं से जोडे। उद्योग मंत्री शकुन्तला रावत ने आमजन को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा अपने चार वर्षों के कार्यकाल में सडक, विद्युत, शिक्षा, स्वास्थ्य, उद्योग, रोजगार जैसे अनेक विकासात्मक कार्यों को अमलीजामा पहनाने का कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा सभी वर्गों के हितों को ध्यान रखते हुए कार्य किया गया है। उन्होंने चिरंजीवी योजना सहित आमजन के हित में राज्य सरकार द्वारा संचालित फ्लैगशिप योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा कि योजनाओं से जुडकर लाभ उठाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा रोजगार को बढावा देने के उद्देश्य से इन्वेस्ट समिट के माध्यम से भिवाडी, नीमराणा, घिलोठ सहित जिले के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों में औद्योगिक इकाइयों को उद्योग स्थापना हेतु प्रोत्साहित किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मंत्री गहलोत ने प्रदेश के एक लाख से अधिक संविदाकर्मियों को नियममित करने का फैसला किया है जो उनकी सकारात्मक सोच को दर्शाता है। उन्होंने बानसूर क्षेत्र में कराए गए विकास कार्यों के बारे में विस्तार से अवगत कराया। राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह राठौड ने कहा कि विकास कार्य ही किसी भी सरकार की सूरत व सिरत को तय करते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिना भेदभाव के सभी वर्गों को जन कल्याणकारी योजनाओं से लाभांवित कराने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत प्रदेश के सभी परिवारों को कैशलेस इलाज एवं मनरेगा की तर्ज पर इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना के माध्यम से शहरों के बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा हैं। उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढावा देने के उद्देश्य से हैरिटेज स्मारकों, हैरिटेट होटलों, ऐतिहासिक धरोहरों का जीर्णोद्धार व रिनोवेशन का कार्य कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में आमजन को रोजगार प्रदान करने हेतु पर्यटन गाइड का प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिससे वे स्थानीय स्तर पर ही रोजगार प्राप्त कर सके। उन्होंने अपने जीवन संघर्ष के बारे में बताते हुए कहा कि उनके पैतृक गांव बिलाली से मिले संस्कारों से ही वो इस मुकाम पर पहुंचे हैं। जिला प्रमुख बलबीर सिंह छिल्लर ने ग्राम बिलाली में पंचायती राज विभाग के माध्यम से करीब एक करोड रूपये के विकास कार्य कराने की घोषणा करते हुए पंचायतीराज विभाग में संचालित योजनाओं एवं राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा कि शिक्षा, चिकित्सा के साथ हर महकमे में ऐतिहासिक कार्य व अभूतपूर्व योजनाएं संचालित हैं। 
मंत्री यकायक घर आए तो बालसखा हुए भावुक।
राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह राठौड अपने बालसखा व सहपाठी बिलाली निवासी  ग्यारसीलाल गुर्जर के घर पर मंत्री लालचंद कटारिया व शकुन्तला रावत के साथ पहुंचे तो उनके मित्र ग्यारसीलाल गुर्जर भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि मैं खेती किसानी करता हूं किन्तु आज राज्य मंत्री का दर्जा मिलने पर भी धर्मेन्द्र सिंह राठौड अपने बचपन के मित्र को नहीं भूले हैं। लगातार सम्पर्क में रहकर परिवार की जानकारी लेते हैं व दुख-सुख में शरीक होते हैं। मंत्री लालचंद कटारिया ने ग्यारसीलाल गुर्जर को कृषि व पशुपालन विभाग की योजनाओं से जुडकर लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया। 
बिलाली माता मंदिर में की पूजा-अर्चना।
मंत्रीगणों ने बिलाली माता (शीतला माता) के प्राचीन मंदिर में विधिवत पूजा-अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। इसके पश्चात मंत्रीगणों ने ज्ञानपुरा के गांव खरखडीपुर में जयबाबा गरीबदास नन्दीशाला एवं लावारिस पशु सेवा समिति का अवलोकन किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack