बहुमंजिला इमारतों को पेयजल कनेक्शन के संबंध में नीति दीपावली से पहले-मंत्री महेश जोशी।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. महेश जोशी ने कहा कि प्रदेश में बहुमंजिला इमारतों एवं निजी टाउनशिप को पेयजल कनेक्शन के संबंध में बनाई जा रही नीति दीपावली से पहले जारी कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक के नेतृत्व में आमजन के हित में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। पेयजल उपभोक्ताओं के पूराने पानी के बिल के भुगतान पर ब्याज एवं शास्ति माफ की गई है। उपभोक्ताओं को प्रतिमाह 15 हजार लीटर तक पानी फ्री दिया जा रहा है। डॉ. जोशी मालवीय नगर स्थिति पीएचईडी के पिंक डिवीजन कार्यालय के उद्घाटन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। 
उन्होंने पिंक डिवीजन जयपुर को पूरे प्रदेश में एक मॉडल बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि इस डिवीजन में सभी अभियंता महिलाएं लगाई गई हैं, जो संवेदनशीलता के साथ मालवीय नगर क्षेत्र के उपभोक्ताओं की हर पेयजल समस्या का निदान करेंगी। उन्होंने विभाग के सभी अभियंताओं को संवेदनशील होकर आमजन की पेयजल संबंधी समस्याओं के समाधान का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पेयजल संबंधी समस्या का पता लगने पर अभियंता मौके पर पहुंचे।जलदाय मंत्री ने हाल ही में बीसलपुर पेयजल लाइन में आई तकनीकी समस्या के दौरान जयपुर की जनता द्वारा रखे गए धैर्य के लिए आमजन को साधुवाद देते हुए कहा कि उपभोक्ताओं द्वारा धैर्य रखने के कारण ही इस समस्या का समय पर समाधान किया जा सका।
डॉ. जोशी ने कहा कि महिला सशक्तीकरण एवं महिलाओं के प्रति सम्मान की भावना के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हर संभाग मुख्यालय पर एक डिवीजन को पिंक डिवीजन बनाने की घोषणा को बजट में शामिल किया। यह उनकी महिलाओं के प्रति सहृदयता को प्रदर्शित करता है। उन्होंने कहा कि महिलाएं हार्डवर्कर होती हैं, वे ऑफिस के साथ घर का भी पूरा ख्याल रखती हैं। वर्तमान सरकार ने उनके उत्थान के लिए कई योजनाएं एवं कार्यक्रम चलाए हैं। लघु उद्योग विकास निगम के अध्यक्ष राजीव अरोड़ा ने कहा कि गुलाबी नगरी में पिंक डिवीजन बनाकर राज्य सरकार ने महिलाओं के प्रति सम्मान की भावना प्रदर्शित की है। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह एक आदर्श डिवीजन बनेगा। राज्य समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष डॉ. अर्चना शर्मा ने कहा कि महिलाओं का अलग डिवीजन उनके श्रम, कौशल, कर्तव्य परायणता, निष्ठा को पुरस्कृत करने का एक प्रयास है। मालवीय नगर में इस पिंक डिवीजन को बनाने के लिए डॉ. जोशी को साधुवाद दिया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में कई बेहतरीन योजनाएं प्रदेश में लागू की गई हैं। उन्होंनेे भरोसा दिलाया कि आमजन की समस्याओं के समाधान के लिए जलदाय विभाग के इंजीनियरों को जनप्रतिनिधियों का पूरा सहयोग मिलेगा।इससे पहले अतिरिक्त मुख्य अभियंता (जयपुर शहर) आरसी मीणा ने अतिथियों का स्वागत किया और विभाग द्वारा जयपुर शहर में संचालित पेयजल योजनाओं के बारे में जानकारी दी। इस पिंक डिवीजन की प्रभारी अधीशाषी अभियंता निशा शर्मा ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।उल्लेखनीय है कि महिला दिवस के अवसर पर पेयजल संबंधी अनुदान मांगों का जवाब देते हुए जलदाय मंत्री डॉ. महेश जोशी ने पीएचईडी के प्रदेश के सभी संभागीय मुख्यालयों पर स्थित क्षेत्रीय कार्यालयों में एक-एक डिवीजन को पिंक डिवीजन में परिवर्तित करने की घोषणा की थी। महिला सशक्तिकरण की दिशा में यह अनूठी पहल है। कार्यक्रम में अतिरिक्त मुख्य सचिव जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल डॉ. सुबोध अग्रवाल, मुख्य अभियंता (शहरी)  के.डी. गुप्ता, मुख्य अभियंता (जेजेएम) आरके मीणा, मुख्य अभियंता (विशेष परियोजना) दिनेश कुमार गोयल, मुख्य अभियंता (प्रशासन) आरके लुहाडिया, मालवीय नगर के आमजन उपस्थित थे।मालवीय नगर पिंक डिवीजन में एक अधिशाषी अभियंता, 5 सहायक अभियंता, 5 कनिष्ठ अभियंता, एक वरिष्ठ सहायक, एक कनिष्ठ सहायम एवं दो पम्प चालक के पदों पर महिलाओं को पदस्थापित किया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack