विधायक दानिश अबरार और वन विभाग के अधिकारी हुए आमने-सामने, विधायक ने मांगी माफी।

सवाई माधोपुर-हेमेन्द्र शर्मा.
सवाई माधोपुर स्थित रणथंभौर की विभिन्न समस्याओं को लेकर विधायक दानिश अबरार की अगुवाई में सीसीएफ कार्यालय पर किये गए धरना प्रदर्शन के दौरान एक बारगी उस वक्त गहमा गहमी हो गई जब विधायक दानिश अबरार ने रणथंभौर के सीसीएफ सेडूराम यादव पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए सीसीएफ को कई बार पकौड़ा राम कहकर संबोधित किया।वनाधिकारियों के लिए विधायक के अमर्यादित बोल को लेकर मौके पर मौजूद मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक अरविंद तोमर भड़क गए और खड़े होकर विधायक द्वारा बोले गये शब्दो पर कड़ा एतराज जताया । अरविंद तोमर ने कहा कि अगर वनाधिकारियों से कोई गलती हुई है तो में उनकी तरफ से माफी मांगता हूं पर वनाधिकारियों के लिए इस तरह की अमर्यादित भाषा को सहन नही करेंगे । वन्यजीव प्रतिपालक के कड़े रुख के बाद विधायक दानिश अबरार ने भी अपनी गलती स्वीकार करते हुए माफी मांगी। वही इस दौरान विधायक ने सीसीएफ पर कई गम्भीर आरोप लगाए। विधायक ने कहा कि सीसीएफ जनप्रतिनिधियों से झूठ बोलते है।मीडिया को भी झूठी जानकारी देते है।विधायक ने कहा कि वनाधिकारियों द्वारा अपनी हठधर्मिता की जा रही है।इसे वे कभी बर्दास्त नही करेंगे।विधायक द्वारा एक के बाद एक आरोप लगाने पर मौके पर मौजूद सीसीएफ सेडूराम यादव भी भड़क गए और विधायक व सीसीएफ के बीच मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक के सामने ही हॉट टॉक हो गई। 
मौके पर मौजूद वनाधिकारियों ने बमुश्किल मामला शांत कराया। धरना प्रदर्शन के दौरान विधायक ने करंट बुकिंग शुरू करने ,जोन नंबर एक से 10 के टाईगर को शिफ्ट नही करने ,बोर्डिंग पैलेस बनाने सहित गाइडों व वाहन चालकों की विभिन्न समस्याओं के निस्तारण की मांग की। जिस पर वाहन चालकों एंव गाइडों की मौजूदगी में विधायक की वनाधिकारियों से खुलकर चर्चा हुई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack