आसोज में लौटा सावन, आसमानी आफत बनी मुसीबत।

सवाई माधोपुर-हेमेन्द्र शर्मा।
सवाई माधोपुर जिले में विगत दो दिनों से लगातार रुक रुक कर बारिश का दौर जारी है । विगत दो दिनों से ऐसा लग रहा है मानो आसोज में सावन लौट आया हो । बेमोस बारिश जहाँ धरतीपुत्रों के लिए मुसीबत बनी हुई है । वही बारिश के चलते रणथंभौर का पर्यटन भी प्रभावित हुआ है। जिले में विगत दो दिनों में कही भारी तो वही मध्यम बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त है ।  
रणथंभौर के जंगलों में हुई तेज बारिश के चलते रणथंभौर के सभी नाले और झरने उफान पर है । जिसके चलते रणथंभौर का पर्यटन बेहद प्रभावित हुआ है। बारिश के कारण जंगल क्षेत्र में पानी की आवक को देखते हुए सुरक्षा के मध्यनजर वन विभाग द्वारा रणथंभौर के एक से 5 तक के सभी जोन को पर्यटकों के लिए आगामी आदेशों तक बंद कर दिया गया । वही भारी बारिश के चलते रणथंभौर के मुख्य रास्ते पर गोमुखी के नजदीक सड़क कटाव से आवागम प्रभावित हो गया। ऐसे में वन विभाग द्वारा रणथंभौर भ्रमण पर आने वाले पर्यटकों को रणथंभौर के बाहरी ज़ोन 6, 7 ,8 ,9 व 10 में डायवर्ट किया गया है । बारिश के कारण रणथंभौर स्थित अमरेश्वर महादेव का झरना तांडव मचा रहा और पूरी तरह उफान पर है । जिले में लगातार हो रही बारिश किसानों के लिए आफत बनी हुई है। बारिश से जहाँ सरसो की बुवाई प्रभावित हुई है।वही खेलो में खड़ी व कटी हुई बाजरे ,तिल्ली ,ज्वार की सफले पूरी तरह खराब हो चुकी। बेमौसम की बारिश ने किसानों के अरमानों पर पानी फेर दिया। बेमौसम की बारिश के चलते जहाँ खरीफ की लगभग सभी फसलें खराब हो गई वही अब रबी की बुवाई में भी देरी होने से किसान चिंतित है । बेमौसम की बारिश किसानों के लिए बर्बादी बनकर बरस रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack