मादक पदार्थ तस्करी में बीएसएफ इंस्पेक्टर सहित तीन तस्कर गिरफ्तार।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जयपुर कमिश्नरेट स्पेशल टीम ने ऑपरेशन क्लीन स्वीप के तहत बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए मादक पदार्थ की तस्करी में लिप्त बीएसएफ के एक इंस्पेक्टर सहित तीन तस्करों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। पुलिस ने आरोपियों के पास से भारी तादाद में मादक पदार्थ, अवैध हथियार और तस्करी में प्रयुक्त वाहन बरामद किए हैं। पुलिस गिरफ्त में आए तीनों आरोपियों से पूछताछ में जुटी है जिसमें तस्करी के एक बड़े नेटवर्क का खुलासा होने की संभावना है।एडिशनल डीसीपी क्राइम सुलेश चौधरी ने बताया कि मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर सीएसटी और चौमूं थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई को अंजाम देते हुए बीएसएफ इंस्पेक्टर राजेंद्र कुड़ी, कैलाश देवेंदा और मदन बराला को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मौके पर आरोपियों के पास से 1 किलो 385 ग्राम अफीम, बिक्री की राशि 70300 रुपए और तस्करी में प्रयुक्त एक लग्जरी वाहन बरामद किया। आरोपियों से हुई पूछताछ में खुलासा हुआ है कि बीएसएफ इंस्पेक्टर राजेंद्र कुड़ी नॉर्थ वेस्ट मणिपुर में तैनात है। जो स्वयं की कार से बड़ी तादाद में असम से मादक पदार्थ अफीम तस्करी कर जयपुर लाता है। मादक पदार्थ जयपुर लाने के बाद कैलाश देवेंदा और मदन बराला को सप्लाई किया जाता है। जिसे जयपुर और सीकर में अफीम का कारोबार करने वाले बड़े डीलर्स व सप्लायर्स को बेचा जाता है। आरोपी मदन बराला जयपुर शहर व जयपुर ग्रामीण क्षेत्रों में अफीम के अलावा डोडा पोस्त व अन्य मादक पदार्थ की सप्लाई का काम भी किया करता है। राजेंद्र कुड़ी असम से 1 लाख 20 हजार रुपए प्रति किलो के हिसाब से अफीम खरीद कर जयपुर लाता है जिसे आगे 2 लाख रुपए प्रति किलो के हिसाब से बेचा जाता है। फिलहाल पुलिस गिरफ्त में आए तीनों आरोपियों से पूछताछ में जुटी है और जयपुर शहर व आसपास के क्षेत्रों में किन-किन डीलर्स व सप्लायर्स को मादक पदार्थ बेचे जाते हैं, इसकी भी जानकारी जुटाई जा रही है। आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद सीएसटी और चौमूं थाना पुलिस ने गिरफ्त में आए बीएसएफ इंस्पेक्टर राजेंद्र कुड़ी के सीकर रोड स्थित आवास पर छापेमारी की। छापेमारी के दौरान आरोपी के घर से 4 किलो 702 ग्राम अफीम, 1 पिस्टल, 2 मैगजीन और 12 जिंदा कारतूस बरामद किए गए। जिसे लेकर हरमाड़ा थाने में एनडीपीएस एक्ट व आर्म्स एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। आरोपी के आवास से मिले हथियार के संबंध में पड़ताल की जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack