दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर बोला हमला, दो पुलिसकर्मी हुए चोटिल।

चित्तौड़गढ़-गोपाल चतुर्वेदी।
चित्तौडग़ढ़ जिले के गंगरार उपखंड मुख्यालय पर मंगलवार को एक दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस टीम पर आरोपी और उनके परिजनों ने पुलिस की टीम पर जानलेवा हमला कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस जाप्ता इमरान पुत्र मुना खां मंसूरी निवासी चांदपोल गंगरार को 376 मामले में दुष्कर्म आरोपी को गिरफ्तार करने हेतु उसके मकान पहुंची। जहा पर पुलिस ने आरोपी को पकड़ा उसी दौरान उसके परिजनों ने इसका विरोध किया। और विरोध के दौरान आरोपी सहित उसके भाई व महिलाओं ने पुलिस की टीम पर पत्थरों, डंडो से हमला कर दिया। वही आरोपी इमरान ने पुलिस के जवान धर्मपाल पर चाकू से तीन हमले किये जिसमें एक पेट पर एक हाथ की कोहनी पर तीसरा हमला हाथ पर किया। भीमाराम के कंधों पर चाकू से हमला किया। जिसके चलते दो  पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए। उस दौरान आरोपियों को पुलिस की टीम ने आरोपी के मकान से खदेड़ते हुए मुख्य सड़क तक ले आए और थाने लाए। घटनाक्रम के दौरान मौके पर ड़ेढ़ सो से दो सो लोगो की भीड़ जमा हो गई ताज्जुब की बात है की किसी ने भी छुड़ाने व बचाने के प्रयास करने के बजाएँ उपस्थित लोग मूकदर्शक होकर तमाशा देखते रहे ।  वहीं आरोपीयों को सीआई शिवलाल मीणा के सामने ऑफिस में पेश करने के दौरान आरोपी की पत्नी ने थाना प्रभारी की टेबल पर रखे टेबल ग्लास को पलट् दिया जो टूट कर सीआई शिवलाल मीणा के पेर में घुस गई। जिससे पैर में चोट आयी और पाँच टाके आये सभी घायल पुलिस वालो को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। गोरतलब है कि आरोपी इमरान 2017 से दुष्कर्म के मामले में फ़रार था जिसका गिरफ़्तारी वारंट निकला हुआ था।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack