मंत्री जूली ने क्रमोन्नत स्कूल का किया उद्घाटन और अम्बेडकर प्रतिमा का किया अनावरण।

अलवर ब्यूरो रिपोर्ट।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने अलवर ग्रामीण क्षेत्र के गांव ठेकडा में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत होने पर फीता काटकर उद्घाटन किया। मंत्री जूली ने कहा कि राज्य सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य किया है। बडी संख्या में सरकारी स्कूलों को क्रमोन्नत किया हैं। अब गरीब तबके के लोगों के बच्चे भी महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूलों में निःशुल्क अंग्रेजी माध्यम की शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि 211 से अधिक सरकारी कॉलेज खोले गए है, नए शिक्षकों की भर्ती की गई है, अन्य भर्ती प्रक्रियाधीन है। महाविद्यालयों में बालिकाओं को निःशुल्क उच्च शिक्षा प्रदान की जा रही है। यह कदम शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगा। 
मंत्री जूली ने अलवर ग्रामीण क्षेत्र के गांव हाजीपुर में भारत रत्न डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा का अनावरण किया। उन्होंने संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर को लोकतांत्रिक व्यवस्था का दर्पण बताते हुए कहा कि उनके बताये मार्ग का अनुसरण करने से सामाजिक समरसता के साथ राष्ट्र का विकास होगा। उन्होंने कहा कि बाबा साहिब ने शिक्षा का महत्व समझकर 'शिक्षित बनो, संगठित बनो और संघर्ष करो' का मूल मंत्र प्रदान किया था। उन्होंने दुनिया का सर्वश्रेष्ठ संविधान हमें प्रदान किया। साथ ही शिक्षा की नींव रख देश में उन्नति की अलख जगाने वाले बाबा साहेब ने देश के निर्माण में अपनी अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब के जीवन चरित्र से प्रेरणा लेकर युवाओं को अपना लक्ष्य निर्धारण करना चाहिए। 
मंत्री ने शोभायात्रा में भाग लिया।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने बहादुरपुर में वाल्मिकी जयन्ती पर आयोजित शोभायात्रा के कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने कहा कि महर्षि वाल्मीकि के जीवन से हमें प्रेम, सौहार्द व आपसी भाईचारे के साथ जीवन व्यतीत करने की प्रेरणा मिलती है। उन्होंने कहा कि रामायण के प्रसिद्ध रचयिता महर्षि वाल्मिकी आदि कवि के रूप में प्रसिद्ध हुए है। उनकी रचना रामायण महाकाव्य हमें जीवन के सत्य व कर्तव्य से परिचित करवाता है। इसके बाद मंत्री टीकाराम जूली ने डेहरा में पहुंचकर स्व. ओमप्रकाश के निधन पर शोक व्यक्त किया तथा शोक संतृप्त परिवार को सांत्वना देकर ढाढस बंधाया। इसके पश्चात दाउदपुर में नेक कमाई समूह की ओर से रामलीला में किरदार निभाने वाले बच्चों के सम्मान समारोह में शामिल हुए। इस अवसर पर प्रधान दौलतराम जाटव, वीरमति देवी, पूर्व प्रधान शिव लाल गुर्जर, पूर्व चेयरमैन रामफल गुर्जर सहित प्रबुद्ध व्यक्ति एवं आमजन उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack