हैवानों ने मूक बधिर युवती के साथ किया दुष्कर्म।

उदयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
उदयपुर शहर के हिरणमगरी इलाके में एक मूक बधिर युवती से दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया है। युवती ने ट्रांसलेटर की मदद से एमबी अस्पताल में पुलिस को आपबीती बताई। युवती के गर्भवती होने की बात भी सामने आ रही है। पुलिस ने ट्रांसलेटर की मदद से एमबी अस्पताल में पीड़िता के बयान लिए हैं। पूछताछ में पता चला कि युवती के साथ अलग-अलग वक्त में 3 युवकों ने दुष्कर्म किया। आरोपियों में एक मूक बधिर भी शामिल है। इस मामले में सुखेर स्थित सखी सुरक्षा शेल्टर होम की बड़ी लापरवाही सामने आई है। बुधवार देर रात शेल्टर होम से पीड़िता ने भागने की कोशिश भी की थी। इसी दौरान वह दीवार से गिर गई और उसका पांव टूट गया। इसके बाद गुरुवार को उसे एमबी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। तब उसके गर्भवती होने की बात सामने आई। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को डिटेन भी किया है। हिरणमगरी थानाधिकारी के मुताबिक 22 वर्षीय युवती के साथ दुष्कर्म और पीड़िता की मां ने भी बेटी के साथ गलत हरकत करने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद युवती का डीएनए टेस्ट और मेडिकल करवाया गया है। पुलिस की ओर से युवती के बयान भी लिए गए हैं। युवती की मेडिकल रिपोर्ट में सामने आया है कि वह 5 महीने की गर्भवती है। ट्रांसलेटर की मदद से लिए गए बयानों के बाद युवती ने दुष्कर्म के आरोपियों को भी पहचान लिया है।समाज सेविका परवीन बानो ने बताया कि मूक बधिर युवती के साथ हुए दुष्कर्म के मामले में परिजनों की ओर ही पुलिस को गुमराह किया गया है। झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस भी पहले एक नेत्रहीन व्यक्ति के दुष्कर्म करने की बात कह रही थी लेकिन अब मामले का खुलासा होने के बाद जब ट्रांसलेटर की मदद से युवती के बयान लिए गए तो पुलिस ने भी एक से ज्यादा लोगों के दुष्कर्म करने की बात स्वीकार की है। मूक बधिर पीड़िता हिरणमगरी क्षेत्र की रहने वाली है। उसके पिता की मौत हो चुकी है और मां मजदूरी कर गुजारा करती है। पीड़िता का एक बड़ा भाई और बहन है जो शादी होने के बाद से अलग-अलग रहते हैं। पीड़िता की मां के साथ छोटा भाई रहता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack