मंत्री महेश जोशी ने की एक पद छोड़ने की पेशकश।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जलदाय मंत्री और सरकारी मुख्य सचेतक डॉ.महेश जोशी ने एक पद छोड़ने के संकेत दिए हैं। डॉ. जोशी  ने कहा कि मैं कभी भी किसी पद का लालायित नहीं रहा। मेरी तरफ से पार्टी एक पद वापस ले। दोनों पद वापस ले या नहीं लें। यह पार्टी को तय करना है। मुख्य सचेतक का पद ऐसा काम नहीं है। इसमें अतिरिक्त किसी प्रकार का कोई लाभ नहीं मिलता बल्कि दोहरी जिम्मेदारी उठानी होती है। डॉ.जोशी प्रदेश ने सोमवार को कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि सरकारी मुख्य सचेतक का पद दोहरी जिम्मेदारी वाला है। विधानसभा का सत्र चलता है तो फ्लोर मैनेजमेंट के चलते हम बाहर भी नहीं जा सकते हैं। मैं तो खुद यह चाहता हूं कि कांग्रेस जब जिसको उचित समझे उसे यह पद दे दे। इससे यह लाभ जरूर होगा कि एक कांग्रेस कार्यकर्ता को और स्थान मिलेगा। इसके अलावा किसी मंत्री के पास मुख्य सचेतक का पद मिलता है तो उसे कोई अतिरिक्त लाभ नहीं मिलता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack