कुरीति के दलदल से निकल समाज की मुख्य धारा में शामिल हुए युवक-युवती।

बूंदी-हंसपाल यादव।
समुदाय विशेष में व्याप्त कुरीति को त्यागकर एक युवक-युवती विवाह बंधन में बंध गए। जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, समाज सेवी, जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से नैनवां रोड़ स्थित वात्सल्य धाम 'आसरा में विवाह आयोजन सम्पन्न कराया गया। जिला कलक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी, पूर्व वित्त राज्यमंत्री हरिमोहन शर्मा, नगर परिषद सभापति मधु नुवाल, उपखण्ड अधिकारी सोहनलाल ने नव युगल को आशीर्वाद दिया। जानकारी के अनुसार युवक युवती ने नगर परिषद बूंदी के वरिष्ठ पार्षद टीकम जैन से संपर्क किया और कुरीतियों को त्याग कर समाज की मुख्यधारा में आने की इच्छा जताई। इस पर बाल कल्याण समिति अध्यक्ष सीमा पोद्दार, जनप्रतिनिधियों, समाज सेवियों के सहयोग से तैयारियां शुरू की गई। विभिन्न समाजसेवी और संस्थाएं सहयोग के लिए आगे आ गए और विवाह का मंडप सज गया। वरिष्ठ पार्षद टीकम जैन ने बताया कि रामनगर निवासी युवक एवं सवाईमाधोपुर की युवति ने उनसे संपर्क कर कुरीति से दूर हो आपसी सहमति से विवाह करने की इच्छा जताई। सभी से मिले सहयोग और प्रयासों से विवाह की रूपरेखा बनाई गई और समाजसेवियों की मदद से तुरंत ही विवाह की तैयारियां शुरू कर दी गई। सदर थाना प्रभारी अरविंद भारद्वाज ने भी विवाह आयोजन में प्रमुख भूमिका निभाई। शादी में वधू पक्ष की ओर से सदर थाना प्रभारी ने स्वयं कन्यादान की रस्म निभाई। नगर परिषद सभापति मधु नुवाल, सुदामा सेवा संस्थान, पार्षद रामराज अजमेरा, ममता शर्मा, शिलोदय तीर्थ क्षेत्र के कोषाध्यक्ष नरेन्द्र जैन, जगदीश राजपुरोहित, मनीष शर्मा, रेडक्रास, रामनगर सरपंच बालकदास, युवा बोर्ड पूर्व सदस्य चर्मेश शर्मा आदि ने विवाह आयोजन में अपना सहयोग दिया। इस अवसर पर उपप्रधान रामहेत बैरवा, अमित शर्मा 'रघु बाल कल्याण समिति सदस्य घनश्याम दुबे, छुट्टनलाल शर्मा, सुदामा सेवा संस्थान की रामप्रकाश सविता, जगरूप सिंह रंधावा, ठीकरिया सरपंच दीपक मीणा, पार्षद मोहम्मद इरफान, चन्द्रप्रकाश दाधीच भी मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack