प्रेमी ही निकला प्रेमिका के पति का हत्यारा।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
करौली कोतवाली पुलिस ने जिला मुख्यालय पर 20 दिन पहले हुए ब्लाइंड मर्डर कांड का खुलासा करते हुए आरोपी प्रेमी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। आरोपी के मृतक की पत्नी से प्रेम प्रसंग के संबंध और रूपये के लेनदेन के चलते साजिश रचकर ब्लाइंड मर्डर कांड को अंजाम दिया गया। फिलहाल पुलिस आरोपी से हत्याकांड में शामिल अन्य आरोपियो के बारे में जांच पड़ताल में जुटी हुई है। पुलिस अधीक्षक नारायण टोगस ने बताया कि 3 अक्टूबर की रात्रि के समय टैम्पू चालक धर्मसिंह उर्फ धन्ना की हुई हत्या का थानाधिकारी कोतवाली करौली डा. उदयभानसिंह ने पर्दाफाश करते हुए आरोपी दिलीप कुमार उर्फ टिंकू पुत्र प्रकाश उम्र 35 साल निवासी भीम नगर पांडे का कुआ करौली को गिरफ्तार किया गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस टीम का गठन कर शीघ्र ही हत्यारों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए गए थे। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस टीम ने जांच पडताल की तो सामने आया कि आरोपी दिलीप कुमार उर्फ टिंकू के मृतक से पैसो के लेन-देन व मृतक की पत्नि से प्रेम-प्रसंग की बात सामने आयी। टैम्पो चालक (मृतक) अपनी पत्नि से अवैध संबंध को लेकर दिलीप कुमार को धमकाता तथा रकम लेने की बार बार डिमांड करता था। इसी बात को लेकर दिलीप कुमार ने टैम्पो चालक को मारने का प्लान बनाया और दिल्ली से चलकर रात्रि को मृतक के घर आया और सोते हुये धर्मसिंह उर्फ धन्ना का गला दबाकर हत्या कर दी तथा लाश को चौक में पटकर रात्रि को ही वापस दिल्ली भाग गया।संदिग्ध आरोपी दिलीप कुमार को दस्तयाब करने के लिए टीम गठित कर दिल्ली रवाना की गई जो आरोपी को दस्तयाब कर करौली कोतवाली थाना लेकर आई और घटना के संबंध में कडाई से पूछताछ की गई तो हत्या करना स्वीकार किया गया, हत्या में शामिल अन्य आरोपियों के बारे में आरोपी से कडाई से पूछताछ जारी है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ब्लाईण्ड मण्डर का खुलासा करने में सत्येन्द्र जाटव कानि0 1220 थाना कोतवाली करौली की अहम भूमिका रही। 
मृतक के भतीजे ने जताई थी हत्या की आशंका।
आपको बता दे कि 03.10.2022 को मृतक के परिजन लोकेश पुत्र बनीसिंह जाटव ने कोतवाली थाना पर एक रिपोर्ट पेश कर बताया कि धर्मसिंह जाटव पुत्र स्व. लीलाराम जाटव जो कि मेरे चाचा है। जिसकी हत्या कुछ अज्ञात लोगो द्वारा रात्रि 11-12 बजे के बीच कर दी गई तथा लाश को घर के चौंक मे ही फेंक गये। जिसका पता रात्रि 1.30 बजे चला तथा पुलिस को सुबह सूचना दी गई। जिस पर पुलिस ने घटना को गंभीरता से लेते हुए मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack