नेट थिएट पर शास्त्रीय संगीत की स्वर लहरियों ने बनाया मौसम को खुशनुमा।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
नेट थिएट कार्यक्रमों की श्रंखला में जयपुर के जाने माने कलाकार उस्ताद रशीद खान ने ब्रास विंड मेलोडी कार्यक्रम में जब सैक्सोफोन पर राग जोग बजाई तो मौसम खुशनुमा हो गया। नेट थिएट के राजेंद्र शर्मा राजू ने बताया कि उस्ताद रशीद खान ने राग जोग में आलाप, जोड़, झाला और बंदिश बजाकर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसके बाद उन्होंने राग मिश्र मांड में केसरिया बालम आओ नी पधारो म्हारे देश सुनाकर राजस्थान की सांस्कृतिक परंपरा को जीवंत किया और अंत में बहुत ही लोकप्रिय गीत राग पूजा कल्याण में साथी रे भूल न जाना की मधुर स्वर लहरियों इतने मीठे अंदाज में पेश किया कि श्रोता वाह-वाह कर उठे। इनके साथ तबले पर दिलशाद खान, कीबोर्ड पर वासिद खान और ऑक्टोपैड पर मोहसिन अंशु ने असरदार संगत कर कार्यक्रम को खुशनुमा बना दिया। कार्यक्रम में भाजपा सांस्कृतिक और पर्यटन प्रकोष्ठ के सदस्य विक्रम सिंह धोधलिया उपस्थित थे। कार्यक्रम संयोजक नवल डांगी, प्रकाश संयोजन मनोज स्वामी, कैमरा जीतेंद्र शर्मा, मंच सज्जा अंकित शर्मा नोनू एवं  जीवितेश शर्मा की रही।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack