शुद्ध के लिये युद्ध के तहत दर्ज प्रकरणों में 10 दिन में चालान पेश करें अधिकारी-जिला प्रभारी सचिव।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के सचिव एवं जिला प्रभारी सचिव डॉ. पृथ्वी ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप आमजन को सरकार की फलैग्शिप एवं कल्याणकारी योजनाओं का पात्रता के अनुसार समय पर लाभ मिलें। उन्हे अनावश्यक रूप से चक्कर नही लगाने पडें। प्रभारी सचिव गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार मे विभागों की समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए बोल रहे थे।उन्होने समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी निर्देशित किया कि शुद्ध के लिये युद्ध अभियान के तहत 74 प्रकरण लंबित है। इस संबंध मे उन्होने खाद्य निरीक्षक को निर्देश देते हुए कहा कि आगामी 10 दिवस मे चालान पेश कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें।
उन्होने निशुल्क जांच व दवा योजना के बारे मे कहा कि सरकार की भावना के अनुरूप निशुल्क जांच व दवा योजना का लोगो को लाभ मिले इसके लिये लैब मे जांच की गुणवत्ता सुनिश्चित की जाये और लैब के लिये नये डिजाईन तैयार किये जाये ताकि जितने टेस्ट अब किये जा रहे है उसमे और वृद्धि करते हुए लैब को मजबूत बनाने के लिये सीएमएचओ एवं पीएमओ लैब डिजाईन कर खाली पदों की सूची भिजवाये जाने के भी निर्देश दिये।उन्होने कहा कि चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना मे अधिक से अधिक पंजीकरण करवाये जिससे कि समय पर आमजन को योजना का लाभ मिल सके। प्रभारी सचिव ने बैठक मे शुद्ध के लिये युद्ध, निरोगी राजस्थान, मुख्यमंत्री दवा योजना, जांच योजना, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, खाद्य सुरक्षा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, हथलेवा योजना, सिलिकोसिस नीति, कृषि, उद्योग, कालीबाई भील स्कूटी योजना, इंदिरा रसोई, इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना, घर घर औषधि वितरण, मुख्यमंत्री किसान मित्र उर्जा योजना सहित जिला परिषद की ठोस तरल कचरा प्रबंधन, पीएम आवास योजना एवं मनरेगा, महात्मा गांधी अंग्रेजी मॉडल स्कूलों की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियो को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। इसके अलावा उन्होने विभिन्न सरकारी योजनाओं की विस्तार से समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियो को शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करने के निर्देश दिये। 
सभी को पर्याप्त मात्रा मे खाद मिले यह सुनिश्चित किया जाये।
प्रभारी सचिव ने कृषि विभाग के उपनिदेशक को जिले मे उत्पन्न हो रही खाद वितरण व्यवस्था के संबंध मे खाद की उपलब्धता एवं वितरण के संबंध मे जानकारी लेते हुए निर्देशित किया कि कृषकों को पर्याप्त मात्रा मे खाद उपलब्ध हो यह सुनिश्चित किया जाये साथ ही विभागो के सहयोग से खाद वितरण व्यवस्था को और अधिक प्रभावी बनाया जाये।उपनिदेशक ने अवगत कराया कि पुलिस के सहयोग से कृषकों को खाद का वितरण किया जा रहा है। जिला कलेक्टर अंकित कुमार सिंह द्वारा टोडाभीम मे आ रही खाद वितरण की समस्या का शीघ्र निराकरण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। बैठक मे उपवन संरक्षक डॉ रामानन्द भांकर, अति. जिला कलेक्टर मुरलीधर प्रतिहार, मुख्य कार्यकारी अधिकारी महावीर प्रसाद नायक, सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी धर्मेन्द्र मीना सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।
प्रभारी सचिव ने की जनसुनवाई।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के सचिव एवं जिला प्रभारी सचिव डॉ. पृथ्वी ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार मे आमजन की समस्याओ को गंभीरता से सुनकर संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी एवं उपखंड अधिकारियों, तहसीलदारों को वीसी के माध्यम से निराकरण करने के निर्देश दिये।जनसुनवाई मे लोगो द्वारा अतिक्रमण हटवाने, रास्ता दिलाने, बैंक खातों मे संशोधन करने, राशन कार्ड बनवाने, पट्टा वितरण, बीपीएल मे नाम दर्ज करवाने, एनएफएसए मे नाम जुडवाने, पीएम आवास की किश्त जारी करवाने, इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना मे लाभ दिलवाने आदि समस्याओं के बारे मे लोगो ने अपनी शिकायतें दर्ज करवाई।जिन पर सभी अधिकारियों से प्रभारी सचिव ने निराकरण कर लोगो को राहत प्रदान करने के निर्देश दिये।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack