सांवलिया सेठ मंदिर का खुला खजाना, पहले दिन मिले ₹7 करोड़, अभी भी 13 बोरों की गिनती होना बाकी।

चित्तौड़गढ़ ब्यूरो रिपोर्ट।
चितौड के प्रसिद्ध कृष्ण धाम भगवान सांवलिया सेठ मंदिर का दानपात्र खोला गया। दानपात्र से पहले दिन 7 करोड़ रुपए से अधिक राशि की गिनती की गई। अब भी नोटों से भरे 13 बोरों की गिनती की जानी शेष है, ऐसे में दान राशि 12 करोड़ से पार होने की उम्मीद है। प्रतिमाह चौदस को भंडारा खोला जाता है। लेकिन इस बार दीपावली के कारण 2 महीने बाद दानपात्र खोला गया। मंदिर बोर्ड के प्रशासनिक अधिकारी कैलाश चंद्र दाधिच ने बताया कि पूजा-अर्चना, राजभोग और आरती के पश्चात सांवलिया सेठ का भंडार खोला गया। इसमें 7 करोड़ 10 लाख 76 हजार 500 रुपए की राशि की गिनती की गई। इस मौके पर नायब तहसीलदार रामलाल मेघवाल, नंदकिशोर, रोकड़िया कालू लाल तेली, संपदा अधिकारी मंदिर बोर्ड के सदस्य अशोक कुमार शर्मा, संजय मंडोवरा मंदिर बोर्ड के कर्मचारी तथा विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।नोटों से भरे 13 बोरों के साथ सोने-चांदी के आइटम की गिनती बाकी है। ऐसे में दान राशि लगभग 12 करोड़ रुपए तक पहुंचने की संभावना है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack