जयपुर मेट्रो के विस्तार के लिए 993.51 करोड़ रूपए स्वीकृत।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुरवासियों के लिए मेट्रो सुविधा को और अधिक सुलभ बनाने की दिशा में अहम निर्णय लिया है। उन्होंने जयपुर मेट्रो के फेज 1-सी के निर्माण के लिए 993.51 करोड़ रूपए की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की है। यह फेज बड़ी चौपड़ को ट्रांसपोर्ट नगर से जोड़ेगा, जिसकी कुल लंबाई 2.85 किलोमीटर है। इसमें 2.26 किमी भूमिगत एवं 0.59 किमी एलिवेटेड भाग रहेगा। प्रस्ताव के अनुसार, जयपुर मेट्रो के फेज 1-सी के निर्माण के बाद बड़ी चौपड़ से दिल्ली-आगरा हाइवे पर ट्रांसपोर्ट नगर तक मेट्रो का संचालन हो सकेगा। गहलोत के इस निर्णय से शहर की यातायात व्यवस्था में सुधार आएगा। साथ ही आमजन को दिल्ली-आगरा हाइवे तक मेट्रो की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। राज्य सरकार विरासत के संरक्षण तथा जयपुर शहर के मूल ऐतिहासिक स्वरूप को बनाए रखने हेतु कृतसंकल्पित है। राज्य सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि भूमिगत निर्माण के लिए अत्याधुनिक मेट्रो रेल प्रौद्योगिकी का उपयोग करके चारदीवारी की विरासत को संरक्षित रखा जाए।उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में जयपुर मेट्रो का विस्तार करते हुए फेज 1-सी एवं फेज 1-डी के निर्माण की घोषणा की गई थी। अक्टूबर, 2022 में जयपुर मेट्रो के फेज 1-डी के निर्माण के लिए 204.81 करोड़ रूपए की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है। वर्तमान में जयपुर में मानसरोवर से बड़ी चौपड़ तक मेट्रो संचालित है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack