ACS कुमार ने की मनरेगा सहित विभिन्न विभागीय योजनाओं की समीक्षा।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अभय कुमार ने शासन सचिवालय में विभागीय अधिकारियों के साथ अपनी पहली समीक्षा बैठक में विभिन्न विभागीय योजनाओं की जानकारी ली। उन्होंने योजनाओं की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति के लिए फोकस एरिया चिन्हित कर कार्य करने के निर्देश दिए।अतिरिक्त मुख्य सचिव ने मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण, विधायक एवं सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास कार्यक्रम, सीमावत क्षेत्र विकास कार्यक्रम, डांग, मगरा एवं मेवात क्षेत्रीय विकास योजना सहित विभिन्न योजनाओं के सम्बन्ध में विभागीय अधिकारियों से विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने मनरेगा की समीक्षा करते हुए श्रमिकों की आधार सीडिंग जारी रखने और ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं की जिलेवार प्रगति के अनुसार जिला कलक्टर्स की रेंकिंग किए जाने के निर्देश दिए।
ग्रामीण विकास विभाग की शासन सचिव मंजू राजपाल ने अतिरिक्त मुख्य सचिव को विभिन्न योजनाओं के संचालन एवं क्रियान्वयन के सम्बन्ध में भारत सरकार के स्तर पर लम्बित मुद्दों पर विस्तार से अवगत करवाते हुए इनके समाधान के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी।मनरेगा आयुक्त शिवांगी स्वर्णकार ने राज्य में मनरेगा योजना के लक्ष्य एवं रोजगार की प्रगति, जॉब कार्ड्स की संख्या, सामग्री एवं श्रम मद में प्राप्त राशि, आधार सीडिंग एवं जिओ टैगिंग, एनएमएमएस एप पर श्रमिकाें की हाजरी एवं अन्य विभागों के अभिसरण के साथ किए जा रहे व्यक्तिगत एवं सामुदायिक कार्यों की विस्तार से जानकारी दी एवं बजट घोषणाओं की क्रियान्विति की प्रगति से भी अवगत करवाया। साथ ही अमृत सरोवर, पंचशाला एवं ग्रामीण क्षेत्र में उद्यान विकास के सम्बन्ध में भी अवगत कराया। अधीक्षण अभियंता प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के. के. शर्मा ने योजना में निर्मित एवं निर्माणाधीन आवासोें की स्थिति, भूमिहीन परिवारों को भूखण्ड उपलब्धता एवं योजना की पेंडेंसी की जानकारी दी। बैठक में पीडी एसएपी ओंकारेश्वर शर्मा ने विभिन्न श्रेत्रीय विकास योजनाओं एवं एमएलए, एमपी विकास निधि संचालित योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी दी। समीक्षा बैठक में अधीक्षण अभियंता मनरेगा राम निवास शर्मा, पीडी मॉनिटरिंग बी.एल.वर्मा समेत अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack