समग्र एवं बहुआयामी औद्योगिक विकास के लिए सरकार हरसंभव प्रयासरत-मंत्री शंकुतला रावत।

जोधपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान स्टेट इण्डस्ट्रीयल डवलपमेंट एण्ड इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड(रीको) के तत्वावधान में काँसिल ऑफ स्टेट इण्डस्ट्रीयल डवलपमेंट एण्ड इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इण्डिया(कोसीडीसी) की ओर से अष्टम् राष्ट्रीय कोसीडीसी अवाड्र्स - 2022 समारोह जोधपुर जिले के शिकारगढ़ स्थित होटल इण्डाना में आयोजित हुआ। मुख्य अतिथि उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री शकुन्तला रावत ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का शुभारंभ किया। 
उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री ने कोसीडीसी की ओर से देश के विभिन्न हिस्सों की कंपनियों, संस्थानों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों के पदाधिकारियों एवं उद्यमियों को विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्यों एवं उल्लेखनीय योगदान के लिए नेशनल अवार्ड प्रदान कर सम्मानित किया। आउटस्टेडिंग एसआईडीसी अवार्ड ईडीसी लिमिटेड, गोआ को प्रदान किया गया। 
समारोह में आन्ध्रप्रदेश, गोवा, केरल, कर्नाटक, जम्मू कश्मीर, तमिलनाडु एवं राजस्थान राज्यों के 50 उद्यमियों को उनके श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया। इनमें सर्वाधिक 21 उद्यमी राजस्थान के हैं। मुख्य अतिथि उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री शकुंतला रावत ने इस अवसर पर अपने उद्बोधन में देश के तीव्र एवं समग्र औद्योगिक विकास में कोसीडीसी की महत्वपूर्ण भूमिका बताते अवाड्र्स प्राप्त करने वाले सभी उद्यमियों को बधाई देते हुए शुभकामनाएं व्यक्त कीं। उन्होंने राजस्थान में प्रचुर मात्रा में प्राकृतिक संसाधनों की उपलब्धता, कृषि उत्पादन, खनिज भण्डारों, रिन्यूएबल एनर्जी आदि का जिक्र करते हुए कहा कि राजस्थान में प्राकृतिक संसाधनों पर आधारित उद्योगों के विकास एवं विस्तार के साथ ही इनमें उत्तरोत्तर निवेश की अपार संभावनाएं हैं। उद्योग मंत्री ने कहा कि ऑन शॉप डीलिंग में क्रूड ऑयल उत्पादन करने के मामले में राजस्थान देश में प्रथम स्थान पर है। प्रदेश के बाड़मेर जिले के पचपदरा में स्थापित हो रहे पैट्रोलियम रिफायनरी वह पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स के उत्पादों पर आधारित डाउनस्ट्रीम उद्योगों की स्थापना के लिए पचपदरा में ही रीको द्वारा राजस्थान पेट्रो जॉन के रूप में एक पैट्रोलियम केमिकल्स एंड पेट्रोकेमिकल्स इन्वेस्टमेंट रीजन की स्थापना की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने बहुआयामी प्रयासों को मूर्त रूप प्रदान करते हुए राज्य में उद्योगों की स्थापना और उनके संचालन के लिए अनुकूल माहौल बनाया है। सरकार का प्रयास है कि प्रदेश में स्थापित उद्योगों का उत्तरोत्तर विकास एवं विस्तार हो।उद्योग मंत्री ने कहा कि हाल ही प्रदेश में नई राजस्थान इन्वेस्टमेंट प्रमोशन स्कीम 2022 लागू की गई है और यह विभिन्न राज्यों में प्रचलित स्कीम्स में सबसे बेहतरीन है, जिसमें नवाचारों और अधिकतम व्यवहारिकता के साथ उद्यमों के लिए विभिन्न सहूलियतों एवं रियासतों का समावेश किया गया है। इसमें सेक्टर स्पेसिफिक पॉलिसीज जैसे कि सोलर एनर्जी पॉलिसी, इलेक्टि्रक व्हीकल पॉलिसी आदि भी लागू की है। राजस्थान में उद्यमों को उपलब्ध सुविधाएं, सेवाएं और रियायतें अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर एवं प्रतिस्पर्धात्मक हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 10 करोड से ज्यादा के निवेश वाले उद्यमों के लिए वन स्टॉप शॉप प्रणाली लागू की गई है। इसके अंतर्गत 14 विभागों के अधिकारी ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन में एक ही छत के नीचे ऐसे उद्यमों को तीव्र गति से स्वीतियां प्रदान कर रहे हैं। रावत ने कहा कि प्रदेश में पारदर्शी एवं बेहतरीन पॉलिसी फ्रेमवर्क, सुविधाजनक एवं निवेश वातावरण के अलावा हमने उद्योगों के लिए इंडस्टि्रयल इंफ्रास्ट्रक्चर का तीव्र गति से विकास किया है। राजस्थान के प्रत्येक उपखंड में रीको का कम से कम एक औद्योगिक क्षेत्र होगा। पिछले माह रीको ने ऐसे 25 औद्योगिक क्षेत्र लांच किए हैं। वर्तमान में राज्य में रीको के 400 से अधिक औद्योगिक क्षेत्र हैं। रावत ने बताया कि दिल्ली-मुंबई इंडस्टि्रयल कॉरिडोर के अंतर्गत राज्य में खुशखेड़ा-भिवाड़ी-नीमराणा इन्वेस्टमेंट रीजन तथा जोधपुर-पाली-मारवाड़ इंडस्टि्रयल एरिया इंडस्टि्रयल टाउनशिप विकसित करने के लिए नई कंपनी राजस्थान इंडस्टि्रयल कॉरपोरेशन लिमिटेड का गठन कर दिया गया है। भारतीय एवं विदेशी कंपनियों से निवेश पाने के मामले में राजस्थान देश भर में दूसरे स्थान पर है। राजस्थान को मिलने वाला नया निवेश वर्ष 2020-21 में 37 हजार करोड़ रुपए के मुकाबले वर्ष 2021-22 में 535 प्रतिशत बढ़कर 2 लाख 37 हजार करोड रुपए पहुंच गया। इस दृष्टि से राजस्थान औद्योगिक विकास, निवेश आदि सभी क्षेत्रों में अनुकूलतम राज्य की पहचान कायम कर रहा है।रीको के निदेशक सुनील परिहार ने नेशनल अवार्ड समारोह को जोधपुर व उद्योग जगत में स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाने वाले ऐतिहासिक कार्यक्रम की संज्ञा दी। इससे जोधपुर में और अधिक निवेश आकर्षित होगा।

कोसीडीसी की गतिविधियों व योजनाओं से कराया अवगत।

अध्यक्षीय उद्बोधन में कोसीडीसी अध्यक्ष एवं तमिलनाडु इण्डस्ट्रीयल इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन, चेन्नई के अतिरिक्त सीएस एवं सीएमडी हंसराज वर्मा ने कोसीडीसी के उद्देश्यों एवं गतिविधियों पर विस्तार से चर्चा की और अैद्योगिक विकास तथा उद्यमियों के लिए संस्था द्वारा संचालित गतिविधियों एवं योजनाओं पर जानकारी दी। आरंभ में स्वागत भाषण प्रस्तुत करते हुए रीको के प्रबन्ध निदेशक शिवप्रसाद नकाते ने अतिथियों का स्वागत करते हुए रीको की गतिविधियों व योजनाओं पर जानकारी दी और बताया कि नवीन तकनीक और वैश्विक माहौल एवम जरूरतों के अनुरूप राजस्थान में रीको द्वारा लगातार नवाचारों को अपनाते हुए प्रदेश के औद्योगिक विकास को रफ्तार दी जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack