अनैतिक गतिविधियों को रोकने के लिए पुलिस चलाएगी ऑपरेशन रोशनी।

सवाई माधोपुर-हेमेन्द्र शर्मा।
राष्ट्रीय महिला आयोग अध्यक्ष रेखा शर्मा के विगत दिनों सवाई माधोपुर दौरे के दौरान जिला मुख्यालय की विनोबा बस्ती में लड़कियों की खरीद फरोख्त एंव देह व्यापार सहित बस्ती में चल रहे अनैतिक कार्यो की रोकथाम को लेकर उनके द्वारा पुलिस की कार्य प्रणाली को लेकर उठाये गए सवालों के बाद आखिरकार सवाई माधोपुर पुलिस हरकत में आई है । सवाई माधोपुर जिला मुख्यालय स्थित विनोबा बस्ती सहित चौथ का बरवाड़ा थाना क्षेत्र के आदलवाड़ा एंव केशव बस्ती में चल रहे अनैतिक कार्य को रोकने एंव बस्ती के लोगो को समाज से जोड़ने को लेकर सवाई माधोपुर पुलिस द्वारा अब एक नई पहल शुरू की जा रही है । जिसे लेकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हिमांशु शर्मा द्वारा समाज कल्याण विभाग कार्यालय पर जिले के आला पुलिस अधिकारियों सहित महिला एंव बाल विकास विभाग ,बाल कल्याण समिति ,चाइल्डलाइन ,महिला एंव बाल अधिकारिता विभाग तथा संबंधित विभागों के अधिकारियों एंव विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों की बैठक ली गई । जिसमें विनोबा बस्ती ,केशव बस्ती और आदलवाड़ा में लड़कियों की खरीद फरोख्त ,देह व्यापार सहित अनैतिक कार्यो को रोकने एंव बस्ती के लोगो को समाज से जोड़ने को लेकर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई । इस दौरान बस्ती में चलने वाले अनैतिक कार्यो को रोकने के लिए पुलिस द्वारा ऑपरेशन रोशनी अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इन बस्तियों के लोगो को समाज से जोड़ने के लिए सामाजिक उत्थान के कार्य भी किये जायेंगे। ताकि इन बस्तियों में अनैतिक कार्य रोके जा सके । इस दौरान उन्होंने जिले के पुलिस अधिकारियों को इन बस्तियों का सर्वे कर रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश भी दिए । गौरतलब है कि राष्ट्रीय महिला आयोग अध्यक्ष रेखा शर्मा ने विनोबा बस्ती को लेकर कई सवाल खड़े किए थे । उन्होंने कहा था कि विनोबा बस्ती में एक एक घर मे 5 से 7 लडकिया है जो असामान्य बात है ,उन्होंने यहाँ तक कहा था कि बस्ती में कम उम्र की लड़कियां देह व्यापार में है यहाँ लड़कियों की खरीद फरोख्त तक हो रही है। लेकिन इन अनैतिक कार्यो को रोकने में पुलिस पुरी तरह फैल है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को फटकार लगाते हुए बस्तियों का सर्वे करवाकर रिपोर्ट तैयार करने ,बस्तियों की लड़कियों का डीएनए टेस्ट करवाने के कड़े निर्देश एसपी को दिए थे।महिला आयोग अध्यक्ष के निर्देश के बाद बाल कल्याण समिति द्वारा भी एसपी से सात दिन में इस मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी गई थी । जिसे लेकर एसपी द्वारा एक टीम गठित की गई और के पुलिस द्वारा इन बस्तियों का सर्वे का कार्य शुरू किया गया । इसी कड़ी में अब पुलिस द्वारा एक नई शुरुआत की जा रही है ।जिसके तहत इन बस्तियों में चल रही अनैतिक गतिविधियों को रोकने और बस्तियों के लोगों के सामाजिक उत्थान को लेकर पुलिस द्वारा ऑपरेशन रोशनी अभियान चलाया जायेगा । बैठक के दौरान इन बस्तियों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack