आवासन मण्डल तिब्बतियों की आवास संबंधी समस्या के निराकरण के लिये तैयार।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान आवासन मण्डल के आयुक्त पवन अरोड़ा ने कहा कि हर साल गर्म कपडों के व्यापार के लिये जयपुर आने वाले तिब्बती शरणार्थी व्यवसायी वर्ष पर्यन्त यहां अपना व्यवसाय कर अपनी रोजी-रोटी कमा सकें, इसके लिये जरूरी है कि जयपुर में उनके पास स्थाई आवास सुविधा हो। आवासन मण्डल तिब्बती शरणार्थियों की जयपुर में आवास संबंधी समस्या दूर करने में सहयोग कर सकता है। इसके लिये तिब्बती शरणार्थी मण्डल को अपनी आवश्यकता से अवगत कराएं।
मण्डल उनकी जरूरतों के अनुरूप योजना बनाने को तैयार है। अरोड़ा झूलेलाल तिब्बती मार्केट मानसरोवर में तिब्बतीयन रिफ्यूजी होजरी रेडीमेड सेलर यूनियन के निमंत्रण पर आयोजित अभिनन्दन समारोह को संबोधित कर रहे थे। तिब्बती धर्म गुरू 43 वें साक्या हिन्जेन ज्ञाना बज्र रिन्पोछे भी इस मौके पर मौजूद थे। आवासन आयुक्त ने शॉल ओढाकर तिब्बती धर्म गुरू के प्रति श्रद्धा भाव प्रकट किया। धर्मगुरू रिन्पोछे ने आवासन आयुक्त को महात्मा बुद्ध की प्रतिमा भेंट कर आशीर्वाद दिया।तिब्बती धर्म गुरू ने कहा कि जिन 266 तिब्बती शरणार्थी दुकानदारों को झूलेलाल तिब्बती मार्केट में दुकानें आवंटित कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, नगरीय विकास मंत्री शान्ति धारीवाल और आवासन आयुक्त ने उनकी रोजी-रोटी की समस्या का स्थाई समाधान किया है। सम्पूर्ण तिब्बती समाज इसके लिये उनके प्रति कृतज्ञता महसूस करता है और इसे शब्दों में बयान करना मुश्किल है। यूनियन की अध्यक्ष ल्हामो के नेतृत्व में बड़ी संख्या में तिब्बती शरणार्थियों एवं मार्केट के अन्य व्यवसायियों ने आवासन आयुक्त का इस मौके पर स्वागत किया। ल्हामो ने कहा कि मण्डल ने तिब्बतीयन रिफ्यूजी होजरी रेडीमेड सेलर यूनियन को गत वर्ष इस मार्केट की 266 दुकानें आवंटित कर स्थाई बाजार उपलब्ध करवाने की उनकी करीब 40 साल पुरानी मांग को पूरा किया। यूनियन पदाधिकारियों ने बताया कि करीब 40 सालों से वे हर साल ऊनी और गर्म कपड़ों के व्यापार के लिए जयपुर आते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack