सीएम अशोक गहलोत का चित्तौड़गढ़ दौरा हुआ निरस्त।

चित्तौड़गढ़- गोपाल चतुर्वेदी।
देश के पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 105वीं जयंती पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का चित्तौड़गढ़ के लिए प्रस्तावित दौरा स्थगित हो गया है। अशोक गहलोत गुजरात चुनाव में सीनियर ओबर्जवर है, साथ ही राहुल गांधी की प्रस्तावित भारत जोड़ो यात्रा को लेकर 19 नवंबर को दिल्ली में सोनिया गांधी के साथ एक बैठक भी है। जिसके चलते यह प्रस्तावित दौरा आगामी दिनों में होने की संभावना है। अशोक गहलोत के आने की खबर मात्र से ही पूरे शहर का लुक चेंज किया जा रहा था। इंदिरा गांधी स्टेडियम में डोम और पंडाल लगाकर सभी तैयारियां भी लगभग पूरी हो चुकी थी, जिससे फिलहाल हटाया नहीं जाएगा।
पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह जाड़ावत ने 12 नवंबर को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात की जानकारी दी थी कि सीएम अशोक गहलोत 19 नवंबर को चित्तौड़गढ़ आएंगे। यहां आने के बाद उनसे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की मूर्ति का अनावरण करवाया जाएगा। इसके साथ ही कई उद्घाटन, शुभारंभ और लोकार्पण भी किया जाना था। इसको लेकर शहर में जोरों शोरों से तैयारियां चल रही थी, लेकिन एकाएक सीएम गहलोत के यात्रा स्थगित करने की बात सामने आई है। राज्य मंत्री सुरेंद्र सिंह जाड़ावत ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुजरात चुनाव के सीनियर ओबर्जवर है और गुजरात में चुनाव को लेकर प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। राजस्थान में सरदारशहर विधानसभा का उपचुनाव भी होना होने वाला है। इसके अलावा राहुल गांधी की प्रस्तावित भारत जोड़ो यात्रा और गुजरात चुनाव के संबंध में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी दिल्ली में 19 नवंबर को ही एक बैठक बुलाई गई है। जिसमें मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे। इसके लिए चित्तौड़गढ़ आने का प्रोग्राम स्थगित कर दिया गया है। राज्यमंत्री जाड़ावत का कहना है कि मुख्यमंत्री आगामी कुछ दिनों मे चित्तौड़गढ़ आ सकते हैं। ऐसे में तैयारियां बंद नहीं होगी। तैयारियों को लेकर वही काम किया जाना है और यदि अगर मुख्यमंत्री नहीं आए तो तैयारियां बंद की जाएगी। इंदिरा गांधी स्टेडियम में मुख्य सभा का आयोजन होना था। वहां पर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के 4.5 क्विंटल वजनी मूर्ति का अनावरण किया जाना था। इसी स्टेडियम में 42 साल पहले इंदिरा गांधी ने भी भाषण दिया था। उनके 105वीं जयंती को चित्तौड़गढ़ में कई कार्य के लोकार्पण और शिलान्यास करके मनाया जाने का प्रोग्राम भी फिक्स था। दिन रात राज्यमंत्री जाड़ावत और जिला कलेक्टर अरविंद पोसवाल सभी कामों को लेकर निरीक्षण भी कर रहे थे। नगर परिषद द्वारा शहर के जिन चीजों को लेकर सूध भी नहीं ली गई। उन सभी कामों को मुख्यमंत्री के आने की सूचना मात्र से ही तेजी से कराया जा रहा था। राजीव गांधी पार्क में टूटी हुई मूर्तियों को ठीक करवाना, बाहर खाली जगह पर मिट्टी डलवाना, पार्क की साफ-सफाई, शहर के बीचो-बीच बने डिवाइडरों के टूटी रेलिंग को ठीक करना, उनमें कलर करवाना, पेड़ों की कटिंग कर उनमें पानी का छिड़काव कर धूल साफ करना, नई और पुरानी पुलिया के पास भी दीवारों पर कलर करवाना, जगह जगह शिला पट्टिका लगवाना सहित ऐसे कई काम किए जा रहे थे। गनीमत रही कि सीएम अशोक गहलोत की आने की सूचना पर शहर में रुके हुए काम हो रहे थे। सीएम यात्रा स्थगित हुई है लेकिन कैंसल नहीं, इसलिए फिलहाल इन कामों में ब्रेक नहीं लगेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack