प्रदेश में राशन की दुकानों को बनाया जायेगा आधुनिक-खाद्य मंत्री।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राज्य में जरूरतमंद सभी लोगों को खाद्य सुरक्षा योजना से जोड़ा जायेगा जिससे की जरूरतमंद लोगों को आसानी से राशन उपलब्ध हो सके। खाचरियावास शासन सचिवालय में आयोजित खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में जरूरतमंद लोगों के अधिक से अधिक नाम जोड़े जाये। उन्होंने खाद्य सुरक्षा योजना में नाम जोड़ने के लिए पोर्टल पर किये गये आवेदनों के निस्तारण की प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने के निर्देश दिये। खाचरियावास ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि जरूरतमंद व्यक्ति द्वारा अनाज मांगने पर तत्काल गेहूं दिये जाने की व्यवस्था कायम की जाये। उन्होंने राज्य की 26 हजार राशन की दुकानों को आधुनिक बनाये जाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलगांना एवं हरियाणा राज्यों की उचित मूल्य की दुकानों का अध्ययन कर प्रदेश में अच्छे मॉडल को अपनाने के निर्देश दिये। खाचरियावास ने मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के अनुसार राज्य में नई उचित मूल्य की दुकानें शीघ्र शुरू करने के निर्देश दिये। खाद्य मंत्री के उचित मूल्य की दुकानों पर पोस मशीनों में सर्वर की वजह से होने वाली कठिनाई को भी दूर करने के निर्देश दिये। खाचरियावास ने राज्य में फोर्टिफाईड आटा दिये जाने पर भी विचार किये जाने की भी बात कही। उन्होंने राजस्थान खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम में लम्बे समय से पड़ी चीनी का नीलामी के माध्यम से निस्तारण करने तथा बीकानेर में पडे़ केरोसीन का डिस्पोजल करने के भी निर्देश दिये। खाद्य मंत्री ने विभाग में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की पदोन्नति की बकाया डीपीसी शीघ्र करने के भी निर्देश दिये। बैठक में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अभय कुमार, राजस्थान राज्य खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंध निदेशक परमेश्वर लाल, अतिरिक्त खाद्य आयुक्त कालूराम, उपायुक्त रामस्वरूप, वित्तीय सलाहकार होशियार सिंह सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack