राहुल गांधी के राजस्थान पहुंचने पर देखने को मिलेगा चमत्कार, दिखेगी पार्टी में एकजुटता।

बारां/कोटा-हंसपाल यादव।
तत्कालीन मनमोहन सरकार में पूर्व केंद्रीय पंचायतराज मंत्री रहे मणीशंकर अय्यर ने कोटा में मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए बोला की पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का इतिहास के पन्नों से मिटाने और घटाने का प्रयास किया जा रहा हैं। अययर ने इस बात पर बढ़ा अफसोस भी जताया। अय्यर ने यह बात कोटा सांगोद विधानसभा के गढेपान में कांग्रेस विधायक भरतसिंह के द्वारा मनाए गए पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिवस पर मौके पर आयोजित व्याख्यान में कही। अय्यर ने कहा मैं समझता हूं कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी दिल से कांग्रेसी थे। उनका वेश भाजपा का था। वाजपेयी पंडित नेहरू से काफी प्रभावित हुए थे। उनसे बहुत कुछ सीखा था। पंडित नेहरू ने सन 1957 में बोल दिया था 32 साल का लड़का लोकसभा में अभी अभी आया हैं। यह देश का प्रधानमंत्री बन सकता हैं। नेहरू ने सबसे पहले वाजपेयी के लिए यह कहा था।
पूर्व प्रधानमंत्री ने देश को दी बुनियादी चीजें।
पंडित नेहरू को अय्यर ने याद करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री ने देश को बुनियादी चीजें दी, जबकि उनका काम व उनकी सोच गजब की थी। आज लगता है हम भारत में पैदा हुए यह हमारा सौभाग्य हैं। पंडितजी का भारत विविधता पर आधारित था। मोदी सरकार पर तंस कसते हुए कहा आज प्रयास किया जा रहा है इस विविधता को मिटा दिया जाए। अययर ने कहा कि तमिलनाडु में जो नीट का काम किया जा रहा हैं, यह वहां भावनाओं पर ठेस पहुंचाने का काम हैं। हिन्दी को राष्ट्र भाषा बनाने का प्रयास किया जा रहा है। स्टालियन का बयान सुना है इससे देश की एकता पर खतरा जा रहा हैं। अय्यर ने मंच से कहा था कि सरदार पटेल को नेहरू के सामने बढ़ा किया जा रहा है, जब उनसे इस पर सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि, उनका योगदान कभी कोई भुला नहीं सकता। अय्यर ने कहा नेहरू और सरदार पटेल में टकराव करवाया जा रहा हैं, नेहरू का नाम इतिहास के पन्नों से निकाला जा रहा है यह गलत बात हैं।
भारत जोड़ो यात्रा से पार्टी में नया उत्साह।
अय्यर ने राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर कहा कि इससे पार्टी में नया उत्साह आ रहा हैं, यह पार्टी के लिए बहुत लाभदायक कदम हैं। भाजपा के लोग इसे भारत जोड़ो यात्रा नहीं मानते, लेकिन यह यात्रा कांग्रेस को एकत्रित कर रही है। भारत को सही पथ पर इस यात्रा से ले जाया जा सकता हैं। देश को इस या़त्रा के माध्यम से जोड़ा जा रहा हैं, पिछले 8 सालों से देश बिखरा हैं, बोटी बोटी करने के प्रयास 8 सालों में हुए हैं, इसलिए इस यात्रा की आश्यकता पड़़ी हैं।
राहुल गांधी के राजस्थान आने से होगा चमत्कार।
पूर्व केन्द्रीय मंत्री अय्यर ने प्रदेश में गहलोत-पायलट विवाद के सवाल पर कहा कि राहुल गांधी अभी राजस्थान नहीं आए हैं, देखों यहां उनके आने पर चमत्कार होता हैं। जब वो यहां पहुंचेंगे, तो पार्टी में एकता देखी जाएगी। क्यों कि जोड़ो यात्रा का सीधा मतलब हैं कि जुदा मत हो, इसलिए राजस्थान में इसका असर देखा जाएगा।
भरत सिंह को बनाया जाए पंचायत राज मंत्री।
सांगोद विधायक भरत सिंह को मौजूदा गहलोत सरकार में मंत्री नहीं बनाया गया, इस पर अय्यर ने कहा कि यह राजस्थान की पॉल्टिक्स की बात हैं मेरा इसमें कोई लेना-देना नहीं हैं। लेकिन, उन्होंने खुले मन से कहा कि भरत सिंह को पंचायतराज विषय की समझ और जाानकारी हैं, इसलिए उन्हें अगली बार पंचायत राज मंत्री बनाया जाए। अगर केन्द्र में कांग्रेस की सरकार आती हैं, तो मैं तो भरत सिंह को मंत्री पद पर देखना चाहता हूं।राजस्थान में नेतृत्व परिवर्तन के सवाल पर अय्यर ने कहा कि, जो सत्ता में नही होता, वो चाहता हैं कि नेतृत्व परिवर्तन हो। जो सत्ता में होता हैं, वो चाहता है कि परिवर्तन की कोई आवश्यता नहीं। राजनीती में यह लाजमी हैं, कोई उबरता हैं, किसी की आशाएं पूरी नहीं होती हैं। कुछ न कुछ मतभेद चलते रहते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं हैं कि सब एक पार्टी के लोग नहीं हैं।
यह रहे मौजूद।
इस दौरान जिला कलेक्टर ओपी बुनकर, देहात कोटा जिलाध्यक्ष सरोज मीना, राज्य मंत्री मीनाक्षी चन्द्रावत, पूर्व विधायक सुरेश गुर्जर, पूर्व विधायक पूनम गोयल, पीसीसी सदस्य भानूप्रताप सिंह, सांगोद ब्लॉक अध्यक्ष कुशलपाल सिंह पानाहेड़ा, सरपंच महावीर मीना, उर्मिल बक्शी, जया मीना, पूर्व प्रधान मन्नालाल गुर्जर समेत कई कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack