सरकारी योजनाओं का लाभ हर पात्र व्यक्ति को मिले -मंत्री बी.डी कल्ला।

अलवर ब्यूरो रिपोर्ट।
शिक्षा मंत्री एवं अलवर जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला की अध्यक्षता में जिला परिषद के सभागार में फ्लैगशिप योजनाओं सहित अन्य संचालित योजनाओं व बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। प्रभारी मंत्री डॉ. कल्ला ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं और विकास कार्यों का क्रियान्वयन सुव्यवस्थित रूप से करावे। इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उदासीन अधिकारियों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
उन्होंने सीएमएचओ को निर्देश दिये कि विशेष अभियान चलाकर चिरंजीवी योजना से जिले के सभी परिवारों को जोडे़ं। सरकारी अस्पतालों में चिरंजीवी बीमा योजना के तहत आईपीडी के शत-प्रतिशत क्लेम बुक कर उनका पुनर्भरण बीमा कम्पनी से कराना सुनिश्चित कराएं। इससे अस्पताल की आय में इजाफा होगा जिसका उपयोग चिकित्सकीय उपकरण एवं अन्य चिकित्सकीय व्यवस्थाएं में किया जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि इस योजना से और प्राइवेट हॉस्पिटल्स को जोडे़ं। साथ ही जिन प्राइवेट हॉस्पिटलों में यह योजना संचालित है उन पर प्रभावी निगरानी रखें। उन्होंने निर्देश दिये कि चिरंजीवी योजना की शिकायतों का निराकरण यथाशीघ्र किया जाए। 
योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही पर होगी कार्रवाई।
उन्होंने जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिये कि जनता जल योजना की गति को बढ़ाए। शेष रहे कार्यों को यथाशीघ्र पूर्ण कराए। जो ठेकेदार कार्यों में लापरवाही बरत रहे हैं उनके विरूद्ध कार्रवाई करें। उन्होंने कृषि उपज मण्डी के उप निदेशक को निर्देश दिये कि कृषि विपणन की योजनाओं में राज्य सरकार 50 प्रतिशत तक अनुदान दे रही है। अतः योजनाओं का प्रचार-प्रसार कर खाद्य प्रसंस्करण आधारित उद्योगों को अधिकाधिक योजना से जोड़कर लाभांवित करावें। उन्होंने डीएसओ को निर्देश दिए कि जिले में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान प्रभावी रूप से संचालित होवे। उन्होंने कहा कि मिलावट मानवता के विरूद्ध अपराध है अतः जिले में मिलावटखोरी की रोकथाम हेतु प्रभावी कदम उठाए जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि राशन डीलरों के विरूद्ध अनियमितता की शिकायतें प्राप्त होते ही तुरन्त जांच करें, गड़बड़ी पाए जाने पर तुरन्त उनके लाइसेंस को निलम्बित करें। उन्होंने निर्देश दिये कि खाद्य सुरक्षा योजना से जुड़ने के लिए आए हुए आवेदनों का यथाशीघ्र निस्तारण कर इसके दायरे में आने वाले पात्र व्यक्तियों को जोडे़। अपात्र परिवारों को खाद्य सुरक्षा योजना से हटाया जाए।समीक्षा में बैंकों द्वारा सरकारी योजनाओं में ऋण उपलब्ध कराने में उदासीनता पाए जाने पर उन्होंने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को नाराजगी जाहिर कर निर्देश दिये कि बैंकों को निर्देशित कर सरकारी योजनाओं में ऋण आवेदनों का सकारात्मक रूख रखकर निस्तारण करें। इस हेतु बैंकों की विशेष बैठक आयोजित करावें। उन्होंने सीडीईओ को निर्देश दिये कि महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर प्रभावी मॉनिटरिंग रखते हुए राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप इनका संचालन करावे। उन्होंने सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के संयुक्त निदेशक को निर्देश दिये कि जनसूचना पोर्टल पर सरकारी योजनाओं की अपडेट नियमित सुनिश्चित करावें। उन्होंने उच्च शिक्षा विभाग की समीक्षा कर नोडल अधिकारी जीडी कॉलेज की प्राचार्य को निर्देश दिये कि कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना व देवनारायण छात्रा स्कूटी योजना में स्कूटी वितरण के बैकलॉक को यथाशीघ्र दूर कर दिसम्बर माह के पहले सप्ताह में स्कूटी वितरित करावे। उन्होंने आरटीओ व एडीएम द्वितीय को इन दोनों योजनाओं की मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिये। उन्होंने नगर परिषद आयुक्त को इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना में किए जा रहे कार्यों के तहत परिसमपत्ति निर्माण कार्य कराए जाएं। इस योजना में विधायक व सांसद कोष का उपयोग किया जा सकता है। उन्होंने इंदिरा गांधी के्रडिट कार्ड योजना में आवेदनों की संख्या बढ़ाने एवं अधिकाधिक ऋण उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने निःशुल्क दवा व जांच योजना, पालनहार योजना, इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना, विभिन्न प्रकार पेंशन योजना, किसान मित्र योजना सहित अन्य विभागों की फ्लैगशिप योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की। प्रभारी मंत्री ने जिले में साइबर व अन्य सभी प्रकार के अपराधों की रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाने हेतु पुलिस अधीक्षक अलवर एवं भिवाडी को निर्देशित किया। उन्होंने निर्देश दिये कि जिले की अंतरराज्यीय सीमाओं पर विशेष निगरानी की जाए। सीसीटीवी कैमरों को बढ़ाया जाए। साथ ही उन्होंने निर्देश दिये कि सूचना तंत्र को मजबूत करें। 
बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा।
प्रभारी मंत्री ने बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा कर कहा कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम में जिले की स्थिति अच्छी है। जिन कार्यों में बी और सी ग्रेड है उन कार्यों को ए ग्रेड में लाने हेतु संबंधित सभी अधिकारी समन्वित प्रयास करे ताकि जिला राज्य में प्रथम पायदान पर आ सके। जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने प्रभारी मंत्री को जिले में संचालित फ्लैगशिप योजनाओं एवं अन्य योजनाओं के बारे में विस्तार से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों की प्रभावी मॉनिटरिंग कर विभागों से योजनाओं का क्रियान्वयन प्रभावी रूप से कराया जाएगा। उन्होंने प्रभारी मंत्री को विश्वास दिलाया कि बैठक में दिए गए निर्देशों की अनुपालना समयबद्ध रूप में कराई जाएगी। बैठक में पुलिस अधीक्षक अलवर तेजस्वनी गौतम, प्रशिक्षु आईएएस रिया डाबी, एडीएम द्वितीय जितेन्द्र सिंह नरूका, एडीएम शहर नवीन यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भिवाड़ी विपिन सिंह, जिला परिषद की कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी रेखारानी व्यास, यूआईटी के उप सचिव योगेश डागुर, डीएफओ सरिस्का डी.पी जागावत सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack