अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ माइंस व पुलिस विभाग ने की कारवाई।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राज्य के माइंस विभाग द्वारा पुलिस प्रशासन के समन्वय से अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के विरुद्ध तत्काल प्रभाव से तीन दिन का विशेष अभियान चलाने का निर्णय किया गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिवमाइंस, पेट्रोलियम एवं पीएचईडी डॉ. सुबोध अग्रवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राज्य के सभी माइनिंग अधिकारियों को शुक्रवार को ही अपने क्षेत्र के संबंधित पुलिस अधीक्षकों से संपर्क कर प्रभावी कार्यवाही की रणनीति बनाने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश में कार्यवाही की सूचना भी आने लगी है और आरंभिक सूचनाओं के अनुसार बिना रवन्ना या टीपी के खनिज परिवहन करते हुए 13 से अधिक वाहन जब्त कर संबंधित पुलिस थानों को सुपुर्द किए गए है। एसीएस माइंस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्टोनमार्ट के उद्घाटन अवसर पर कहा था कि राज्य सरकार अवैध खनन के प्रति गंभीर है और निरंतर अभियान चलाकर इस पर रोक लगाने के प्रयास कर रही है। प्रदेश में वैध खनन को बढ़ावा देने और अवैध खनन के खिलाफ कार्यवाही की चर्चा करने के साथ ही सुरक्षित माइनिंग व खनन कार्य में लगे श्रमिकों के स्वास्थ्य के प्रति भी सरकार की गंभीरता जताई थी। मुख्यमंत्री गहलोत के निर्देश के साथ ही विभाग एक्शन मोड पर आ गया है और विभाग ने पुलिस अधीक्षकों से संपर्क कर तीन दिनों तक लगातार अभियान चलाकर अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि अवैध खनन पर प्रभावी रोक के लिए एक और विभाग द्वारा संबंधित विभागों से समन्वय बनाते हुए अभियान चलाकर बड़ी मशीनरी की जब्ती और एफआईआर व गिरफ्तारी जैसे कठोर कदम उठाए जा रहे हैं। वहीं वैध खनन को बढ़ावा देने के लिए खनिज ब्लाक तैयार कर ई नीलामी की जा रही है ताकि अवैध खनन पर रोक लगाई जा सके। उन्होंने फील्ड अधिकारियों को सख्त हिदायत दी है कि अवैध खनन गतिविधियों पर कठोर कार्यवाही की जाए ताकि अवैध गतिविधियों में लिप्त लोगों में भय व्याप्त सके। उन्होंने रात्रिकालीन गश्त पर विशेष ध्यान देने को कहा है। निदेशक माइंस संदेश नायक ने बताया कि विभाग द्वारा आदेश जारी कर अभियान आरंभ करने के निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि फील्ड अधिकारियों से स्पष्ट कहा गया है कि वे अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण गतिविधियों के खिलाफ पुलिस प्रशासन से समन्वय बनाते हुए सख्त से सख्त कार्यवाही करें। उन्होंने बताया कि अभियान की मोनेटरिंग निदेशालय स्तर पर की जाएगी और अधिकारियों को प्रतिदिन की कार्यवाही की विस्तार से सूचना देने के निर्देश दिए गए हैं।जयपुर वृत में बड़ी कार्यवाही करते 6 वाहन जब्त किए गए है। इनमें अलवर में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है वहीं दो टै्क्टर ट्राली, सीकर में दो वाहन, टोंक में एक वाहन और नीम का थाना में आयरन ओर का डम्पर जब्त किया गया है। धौलपुर में बिना रवन्ना के सेंड स्टोन का परिवहन करते हुए एक वाहन को जब्त किया है। सलूंबर टीम द्वारा दोवड़ा पुलिस स्टेशन पर बिना रवन्ना के बजरी डम्पर को जब्त कर सुपुर्द किया है। उदयपुर टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए सेमरी के पास एक डम्पर और घासा गांव के पास एक वाहन जब्त किया है। इसके साथ ही 2 लाख 34 हजार 300 रु. का जुर्माना लगाया है। चुरु टीम द्वारा बिना रवन्ना टीपी के तीन वाहनों पर कार्यवाही कर जब्ती की कार्यवाही की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack