देश में हालात गंभीर, लोकतंत्र खतरे में, चुनावों मे जीत के लिए भाजपा ले रही है झूठ का सहारा-सीएम गहलोत।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों में ओपीएस सबसे बड़ा मुद्दा है। कांग्रेस शासित राज्यों में इसे लागू कर दिया है और हिमाचल में भी कांग्रेस ने लागू करने का ऐलान किया है। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने बीजेपी पर ओपीएस को लेकर दुष्प्रचार करने का आरोप लगाया है। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने शिमला में कहा कि देश में हालात गंभीर हैं लोकतंत्र खतरे में है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा कर आसमान छू रही महंगाई, बेरोजगारी और लोकतंत्र का संदेश जनता में दे रहे हैं। देश में तनाव हिंसा के खिलाफ यह यात्रा है। बीजेपी इससे विचलित हो रही है। देश में स्वायत संस्थाएं ईडी, सीबीआई दबाव में काम कर रही हैं। कांग्रेस को चंदा देने वालों की पहले लिस्ट बनती है फिर छापे पड़ते हैं। बीजेपी का देश में विपक्ष की सरकारों को तोड़ने के लिए बजट होता है। सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि ओपीएस हिमाचल में सबसे बड़ा मुद्दा है। राजस्थान में कर्मचारियों ने कोई मांग नहीं की थी बावजूद इसके यह लागू की गई। मोदी अगर देश में ओपीएस नहीं लागू करते हैं तो इतिहास बन जाएंगे। ओपीएस मानवीय दृष्टिकोण से जरूरी है। कर्मचारियों के विरोध से बचने के लिए हिमाचल में कमेटी बनाई गई है। बीजेपी ओपीएस को लेकर झूठा प्रचार कर रही है। राजस्थान सरकार ने इसे लागू किया है। चुनाव जीतने के लिए झूठ का सहारा लेना दुर्भाग्यपूर्ण है।स्वतंत्रता के बाद देश में सुई तक नहीं बनती थी इसके बाद विकास हुआ ओपीएस लागू थी इसका कोई फर्क वित्तीय प्रबंधन पर नहीं पड़ा। इसके लिए नेता और नीति की जरूरत है। आप पार्टी पर निशाना साधते हुए गहलोत ने कहा कि केजरीवाल को हिमाचल ने भगा दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack