हिमाचल में सचिन पायलट ने भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार की खोली पोल।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
चुनाव प्रचार के आखिरी दिन गुरूवार को कांग्रेस पार्टी के युवा नेता सचिन पायलट ने शाहपुर के रैत में उपस्थित जनसभा को संबोधित किया। इस मौके पर कांग्रेस पार्टी के युवा नेता सचिन पायलट ने कांग्रेस प्रत्याशी केवल सिंह पठानिया के पक्ष में मतदान करने की अपील की। उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते उन्होंने हुए कहा कि 8 सालों का समय बीत चुका और दिल्ली में भाजपा की सरकार है। केंद्र और प्रदेश सरकार का काम जनता के सामने है। अब समय आ गया है कि यह निर्णय करने का कि काम करने वाले लोग जनता के सुख- दुख में भागीदार होने वाले लोग वह अपने आप को इस देश और मिट्टी को समर्पित करने वाले लोगों का चयन करना होगा। या फिर ऐसे लोगों को सत्ता में बिठाना है जिन्होंने 5 सालों तक जनता को लूटा। उन्होंने कहा कि इन पांच सालों के दौरान प्रदेश में पेपर लीक हुए। भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिला और डबल इंजन की सरकार की जो बात प्रदेश के मुख्यमंत्री व देश के प्रधानमंत्री करते है उसे यह स्पष्ट हो गया है कि डबल काम तो नहीं हुआ, लेकिन डबल तो महंगाई हो गई, गैस सिलेंडर के दाम डबल हो गए, दाल चावल के दाम डबल हो गए व प्रदेश में बेरोजगारी भी डबल हो गई। उन्होंने कहा कि यह डबल इंजन की जो सरकार है ,इसमें एक इंजन जो हिमाचल वाला है वो 12 नवंबर को सीज होने वाला है। सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस कार्यकाल के दौरान मनमोहन सरकार ने 10 साल तक देश में काम किया और 14 करोड लोगों को गरीबी रेखा से ऊपर लेकर आए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मनरेगा का कानून बनाया, खाद्य सुरक्षा का कानून बनाया इसी के साथ शिक्षा का अधिकार भी जनता को दिया और सूचना का अधिकार भी लोगों को दिया ,लेकिन भाजपा सरकार ने देश की जनता को जीएसटी, नोटबंदी, लॉकडाउन, उद्योग बंद अर्थव्यवस्था चौपट व शिक्षित बेरोजगार लोगों की फ़ौज खड़ी कर दी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने यह संकल्प लिया है कि कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद पहली कैबिनेट बैठक में ओपीएस को लागू किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

  1. ✅ Better Odds –Betting shops have more overheads than sports betting sites. Therefore, you’ll receive persistently better odds if you bet on-line. The knowledge launched by Twitter shows that bettors of all 온라인 카지노 levels use the platform to assist their handicapping.

    जवाब देंहटाएं

ARwebTrack