युवा पीढ़ी के सपनों के साथ राज्य सरकार की सोच-सीएम गहलोत।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान विश्वविद्यालय में बुधवार को लगभग 12 करोड़ रूपये की लागत से तैयार नवनिर्मित बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर पुस्तकालय भवन एवं 23.32 लाख रूपये की लागत से बने तीरंदाजी खेल मैदान का लोकार्पण किया।
साथ ही, परिसर में 13.22 लाख रुपये की लागत से स्थापित डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा का अनावरण भी किया। इस अवसर पर आयोजित सभा में उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि भविष्य निर्माण के लिए सपने देखें। सकारात्मक सोच के साथ संकल्पित होकर पूरा करने में जुट जाएं, तभी सफलता मिलेगी। गहलोत ने कहा कि हमारे देश और प्रदेश का भविष्य युवाओं के कंधों पर ही है। विद्यार्थियों के अच्छे संस्कार ही मानव संसाधन के रूप में भविष्य निधि है। राज्य सरकार प्रतिबद्धता से युवा पीढ़ी को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, रोजगार, कौशल विकास सहित सभी तरह के उच्च अवसर प्रदान कर रही है। प्रदेश का अगला बजट भी युवाओं और विद्यार्थियों को समर्पित रहेगा, आप बेहतर बजट के लिए अपने सुझाव भेंजे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की सोच युवा पीढ़ी के सपनों के साथ है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1998 में जब वे पहली बार मुख्यमंत्री बने थे, तब लगभग 6 विश्वविद्यालय थे और छात्रों को अन्य राज्यों में जाना पड़ता था। अब लगभग 89 विश्वविद्यालय हैं। साथ ही, हमने लगभग 212 महाविद्यालय शुरू किए, जिनमें 94 महिला महाविद्यालय हैं। आज महाविद्यालयों में लड़कों से ज्यादा लड़कियों की संख्या दर्शाती है कि प्रदेश में बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने के प्रति राज्य सरकार अग्रसर है। लड़कियों का शिक्षित होना और सत्ता में भागीदार बनना बेहद जरूरी है।
युवा पीढ़ी के प्रोत्साहन में कोई कमी नहीं।
गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना, राजीव गांधी स्कॉलरशिप फॉर एकेडमिक एक्सीलेंस स्कीम, जयपुर में कोचिंग हब, महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय, विभिन्न छात्रवृति योजनाएं, इंक्यूबेशन सेंटर सहित अनेकों योजनाओं से राज्य सरकार विद्यार्थियों को शिक्षा के सर्वश्रेष्ठ अवसर मुहैया करा रही है। उच्च शिक्षा और प्रोफेशनल कोर्सेज में निजी शिक्षण संस्थानों को भी मौका दे रहे हैं। ये ही वजह है कि वर्तमान में आईआईटी, एम्स, आईआईएम, ट्रिपलआईटी, विधि, कृषि एवं पत्रकारिता विश्वविद्यालय सहित सभी बड़े संस्थान राजस्थान में स्थापित हैं।
राजकीय और निजी क्षेत्र में रोजगार के लिए प्रतिबद्ध।
मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तक लगभग 1.35 लाख सरकारी नौकरियां दी जा चुकी हैं। एक लाख से अधिक सरकारी नौकरियां प्रक्रियाधीन हैं और बजट में 1 लाख से अधिक सरकारी नौकरियां देने की घोषणा की गई है। ऐसे में, प्रदेश में साढ़े तीन लाख से अधिक सरकारी नौकरियां देकर राजस्थान अग्रणी राज्य बन रहा है। हाल ही इन्वेस्ट राजस्थान में 11 लाख करोड़ के एमओयू हुए हैं, जिनमें लाखों प्रदेशवासियों को निजी क्षेत्र में रोजगार मिलने की संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाएं पारदर्शिता से आयोजित हो रही हैं। वहीं, पेपर लीक करने वाले को जेल भेजा जा रहा है।
प्रति व्यक्ति आय और हैप्पीनेस इंडेक्स बढ़े।
गहलोत ने युवा पीढ़ी से प्रेम, भाईचारे के साथ रहने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि राज्य में प्रति व्यक्ति आय और हैप्पीनेस इंडेक्स बढ़े, इसके लिए सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि निरोगी राजस्थान की संकल्पना को साकार करने के लिए मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के जरिए हर बीमित परिवार को 10 लाख रुपये की चिकित्सा सुविधा, 5 लाख रुपये तक का दुर्घटना बीमा दिया जा रहा है। साथ ही, ऑर्गन ट्रांसप्लांट का पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करने से आमजन को आर्थिक संबल मिल रहा है। इससे पूर्व उन्होंने तीरंदाजी खेल मैदान में फीता काटकर और निशाना साधकर मैदान तीरंदाजों का सौंपा। उन्होंने तीरंदाजों से मुलाकात कर उन्हें प्रोत्साहित किया। इसके बाद बाबा साहब की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद पुस्तकालय भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने भवन में उपलब्ध सुविधाओं का अवलोकन भी किया। समारोह में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह यादव ने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता बनाए रखकर विद्यार्थियों के प्रोत्साहन में राज्य सरकार नए आयाम स्थापित कर रही है। विद्यार्थियों के हितों में कोचिंग संस्थानों की मनमानी फीस पर अंकुश लगाने, छात्रवृत्तियां देने और स्कूटियां वितरित करने, नए महाविद्यालय शुरू करने जैसे कार्य किए जा रहे हैं। इस मौके पर सार्वजनिक निर्माण मंत्री भजन लाल जाटव, राजस्थान लघु उद्योग विकास निगम के अध्यक्ष राजीव अरोड़ा, राजस्थान विश्वविद्यालय के कुलपति राजीव जैन, विधायक एवं सिंडिकेट सदस्य अमीन कागजी, विश्वविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष निर्मल चौधरी सहित विश्वविद्यालय के शिक्षक, अधिकारी-कर्मचारी, छात्रसंघ पदाधिकारी और बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack