सभापति पर हठधर्मिता का आरोप लगाते हुए वार्डवासियों ने किया नगर परिषद का घेराव।

चित्तौड़गढ़-गोपाल चतुर्वेदी।
चित्तौड़गढ़ नगर परिषद सभापति संदीप शर्मा पर हठधर्मिता का आरोप लगाते हुए नगर परिषद के वार्ड संख्या 13 और 14 के वार्ड वासियों ने बुधवार को नगर परिषद का घेराव करते हुए सभापति संदीप शर्मा के खिलाफ नारेबाजी की और आयुक्त के चेंबर में जाकर विरोध स्वरूप जमीन पर बैठकर नगर परिषद की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाया और ज्ञापन सौंपा। आयुक्त ने आगामी एक सप्ताह में वार्ड वासियों की समस्त समस्याओं का निस्तारण करने का आश्वासन देने के बाद धरना समाप्त किया गया। 
इसके बारे में जानकारी देते हुए वार्ड संख्या 13 से भाजपा पार्षद छोटू सिंह शेखावत ने बताया कि विगत 3 वर्षों से लगातार वार्डवासी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है। इसके बारे में कई बार नगर परिषद सभापति संदीप शर्मा को अवगत भी कराया। लेकिन अभी तक उनकी समस्याओं का कोई समाधान नहीं निकला और इसी के विरोध स्वरूप आज वार्ड वासियों को मजबूर होकर नगर परिषद का घेराव करना पड़ा। उन्होंने बताया कि बजरंग कॉलोनी की वार्ड वासियों ने पट्टे के लिए करीब 60 पत्रावलिया 6 माह पूर्व लगाई गई थी। लेकिन अभी तक इस संबंध में कोई कार्यवाही नहीं की गई। इस बीच में दो बार पट्टे आवंटन करने के लिए शिविर का भी आयोजन किया गया। लेकिन बजरंग कॉलोनी वासियों को पट्टों का वितरण नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि वीर रेजिड़ेंसी कॉलोनी में 100 से अधिक परिवार निवास करते हैं जिसके लिए वर्ष 2009 में नगर परिषद ने पट्टे भी जारी किए थे और अभी तक नगर परिषद की ओर से उन वार्ड वासियों को सड़क, नाली रोड लाइट जैसी मूलभूत सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं करवाई है। उन्होंने बताया कि वार्ड के आसपास औपचारिकता पूर्ण करने के लिए सांवलिया पार्क का निर्माण करवाया गया। लेकिन वह अभी भी अधूरा पड़ा हुआ है। इसके बारे में जानकारी देते हुए वार्ड संख्या 14 से भाजपा पार्षद शांतिलाल जाट ने बताया कि उनके वार्ड में अभी तक मूलभूत सुविधाओं का भी अभाव है। जिसके लिए नगर परिषद सभापति और आयुक्त को कई बार अवगत भी कराया। लेकिन अभी तक वार्ड वासियों को उनकी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं करवाई गई और इसी के विरोध स्वरूप आज समस्त वार्ड वासी नगर परिषद आयुक्त का घेराव करने के लिए नगर परिषद पहुंचे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack