नगर परिषद उपचुनाव में मचा घमासान, भाजपा-कांग्रेस जुटी रणनीति बनाने में।

चित्तौड़गढ़-गोपाल चतुर्वेदी।
चित्तौड़गढ़ में कांग्रेसी महिला पार्षद के मृत्यु के बाद खाली हुई वार्ड संख्या 28 की एकमात्र सीट पर 25 नवंबर को होने वाले नगर परिषद  में होने वाले उपचुनाव चुनाव के लिए दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस ने अपनी - अपनी जीत के लिए रणनीति बनाना शुरू कर दिया है। जहां भाजपा कांग्रेस के बोर्ड की विफलताए बताकर सीट हथियाने के मूड में है, वही कॉन्ग्रेस एक बार फिर से इस सीट पर काबिज होने के लिए एड़ी से चोटी तक का जोर लगा रही है।
उपचुनाव में भाजपा की ओर से प्रत्याशी मंजू शर्मा ने बताया कि पिछले 3 सालों मे कांग्रेस  की ओर से वार्ड में विकास के कार्य नहीं कराए गए हैं। जिसके कारण वार्डवासी उनकी मूलभूत सुविधाओं से भी दूर है और उन्होंने कहा की अगर वार्डवासी उन्हें सेवा का अवसर देते हैं तो वार्ड के कायापलट करेंगे, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के मनोहर मेनारिया ने बताया कि इसी वार्ड से पहले उनकी पत्नी दीप्ति मेहरिया पार्षद थी उनकी मृत्यु के बाद हो रहे इस उपचुनाव में एक बार फिर से कांग्रेस प्रत्याशी रविना कुमारी मेनारिया की जीत होगी, उन्होंने बताया कि पिछले 3 सालों में इस वार्ड में उनके द्वारा अभूतपूर्व विकास के कार्य कराए गए हैं और आगे भी विकास के कार्य करवाए जाएंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack