भारत जोड़ो यात्रा की बैठक में पायलट और गहलोत ने काटी एक दूसरे से कन्नी।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में आने वाली है। इसकी तैयारियों को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने प्रबंधन और यात्रा की तैयारियों को लेकर समन्वय समिति की बैठक प्रदेश कांग्रेस द्वारा बनाए गए नए वार रूम में बुलाई गई। इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट पहुंचे। लेकिन दोनों के बीच चल रहा विवाद भी सामने आया और इसी के चलते दोनों नेताओं ने दूरी बनाए रखी। बैठक में कुर्सियां भी दूर नजर आए और एक दूसरे से बातचीत का सिलसिला भी देखने को नहीं मिला। यही नहीं सचिन पायलट यह कहते हुए बैठक से आधा घंटा पहले चले गए कि उन्हें मध्य प्रदेश राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के लिए मध्य प्रदेश के बुरहानपुर जाना है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 3 दिसंबर को यात्रा राजस्थान में आएगी। यहां 17 दिन तक रहेगी और यहां से हरियाणा जाएगी। प्रदेश  कांग्रेस के अध्यक्ष डोटासरा द्वारा बुलाई गई समिति की बैठक में पायलट हरीश चौधरी के बगल वाली कुर्सी पर बैठे। बैठक में सीएम गहलोत के साथ जितेंद्र सिंह और दूसरी ओर प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा बैठे थे। करीब 12 बजे शुरू हुई मीटिंग में  सीएम गहलोत देरी से पहुंचे और सचिन पायलट बैठक में आधे घंटे पहले पहुंचे और उन्होंने बैठक में मौजूद कांग्रेस के नेताओं से बातचीत की। भारत जोड़ो यात्रा समन्वय समिति की बैठक में तय किया गया कि समन्वय समिति के सदस्य 25 नवंबर को राजस्थान में मध्य प्रदेश बॉर्डर से लेकर हरियाणा बॉर्डर तक के 527 किलोमीटर रूट का जायजा लेंगे। इस बैठक में तय किया गया कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का भव्य स्वागत किया जाए और उन्हें एकता दिखाई जाने के लिए सभी नेता जब राजस्थान में यात्रा प्रवेश करें तो मौजूद रहें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack