न्याय के लिए दर दर भटक रहा मृतक बेटी का पिता।

सवाई माधोपुर-हेमेन्द्र शर्मा।
कहने को तो हम 21वीं सदी की बात करते है । लेकिन आज भी कई घटनाएं ऐसी घटित हो रही है जिसे देखकर ओर सुनकर रूह कांप उठती है । ऐसा ही एक मामला सवाई माधोपुर जिले में सामने आया है । जहाँ दहेज के दानवों ने एक नव विवाहिता की इसलिये जान ले ली कि उसका पिता दहेज के दानवों के लालच को पूरा नही कर सका । और अब मृत बेटी को न्याय दिलाने के लिए उसका पिता दर दर भटक रहा है मगर उसकी सुनने वाला कोई नही है। दरअसल सवाईमाधोपुर जिले के नजदीकी टोंक जिले के बंबोरी निवासी रामबाबू योगी ने अपनी बेटी मनीषा की शादी 22 अप्रैल 2022 को सवाई माधोपुर के कुस्तला निवासी जितेश योगी पुत्र कैलाश योगी के साथ कि थी । शादी के दौरान बेटी को विदा कर पिता बहुत खुश था ,लेकिन उसकी खुशियां ज्यादा दिनों तक नही रही । शादी के एक डेढ़ महीने बाद से ही दहेज के लोभी बेटी के ससुराल वालों ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया । और दहेज की मांग करने लगे । इतना ही नही पीड़ित पिता के अनुसार बेटी के ससुराल वाले इतने नीचे गिर गए कि वे उसकी नव विवाहित बेटी मनीषा से मारपीट करने लगे और दहेज की मांग करने लगे । जिसे लेकर कई बार मनीषा ने अपने पिता को फोन कर अपने ससुराल वालों की हरकतों ओर उनकी डिमांड के बारे में बताया । समाज की लोक लाज के चलते पीड़ित पिता ने बेटी को तसल्ली देते हुए अपनी बेटी के ससुर की भी समझाया । लेकिन उसे क्या पता था कि दहेज के लोभी बेटी के ससुराल वाले एक दी उसकी जान ही ले लेंगे । पीड़ित पिता ने बताया कि उसकी बेटी हालही में दिवाली पहले अपने मायके आई थी ,कुछ रुकने के बाद बेटी के ससुराल वालों का फोन आया । कि बेटी को ससुराल भेजो । बेटी मनीषा ने अपने पिता को बताया कि उसके ससुराल वाले कार मांग रहे है ,तो पिता ने बेटी से कहा कि उसके पिता की इतनी हैशियत नही की वो अपने दामाद को कार दे सके ,पिता ने कहा कि उसने अपनी हैशियत के अनुसार दामाद को पहले ही मोटरसाइकिल दे दी । बेटी की स्थिति को देखते हुए उसकी माँ में अपनी बेटी को अपनी सोने की नथ ओर पायजेब देकर विदा कर दिया । लेकिन उसके बाद भी ससुराल वालों का जुल्म कम नही हुआ। पीड़ित पिता का कहना है कि दिवाली से पूर्व 25 अक्टूबर को उसकी बेटी का उसे फोन आया । बेटी जोर जोर से रो रही थी और कह रही थी कि ससुराल वाले उसे मार रहे है । फोन पर बेटी की चितपुकार सुनकर पीड़ित पिता ने अपने भाई को बेटी के ससुराल भेजा । भाई बेटी के ससुराल पहुँचता उससे पहले ही पिता को सूचना मिली कि उसकी बेटी मनीषा अब इस दुनिया मे नही रही । बेटी की मौत की खबर सुनकर पिता के पैरों तले जैसे ज़मीन ही निकल गई।पीड़ित पिता ने बताया कि बेटी की मौत की खबर सुनकर वे बेटी के ससुराल पहुँचा उसके पहले ही ससुराल वाले उसे अस्पताल ले जा चुके थे । पिता अस्पताल पहुंचा तो उसे बेटी का मृत शरीर मिला । पीड़ित पिता का आरोप है कि उसकी बेटी बेहद हिम्मतवाली थी उसे दहेज के लोभी ससुराल वालों ने ही मारा है । पीड़ित पिता ने बेटी की मौत को लेकर ससुराल पक्ष के खिलाफ रवाजना डुंगर थाने में दहेज हत्या का मामला दर्ज करवाया है । पीड़ित पिता का कहना है कि मामला दर्ज होने के बाद भी अभी तक पुलिस द्वारा मामले में कोई कार्यवाही नही की गई है । ऐसे में अपनी मृत बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए एक पिता आये दिन पुलिस एंव प्रशासन के चक्कर काट रहा है पर उस पिता की पुकार सुनने वाला कोई नही है। पीड़ित पिता का कहना है कि ऐसे दहेज के दानवों को अपने कृत्य की सजा जरूर मिलनी चाहिए ,ताकि कोई और बेटी दहेज की आग में ना झुलसे और ऐसे दहेज के लोभी लोगो को सबक मिल सके ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack