आमजन की समस्याओं को शीघ्रता से निराकरण के लिए अधिकारी करें अथक प्रयास- जिला कलक्टर।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने कहा कि राज्य सरकार की मंशानुसार आमजन की समस्याओं का शीघ्रता से निराकरण करने के लिये त्रि-स्तरीय जनसुनवाई कार्यक्रम निर्धारित किया गया है, इसलिए ग्राम एवं ब्लॉक स्तर पर कार्यरत अधिकारी आमजन की समस्याओं का निराकरण सजगता के साथ किया जाना सुनिश्चित करें।जिला कलक्टर ने जिला परिषद के सभागार में आयोजित जिला स्तरीय जनसुनवाई के दौरान यह बात कही। उन्होंने जनसुनवाई में परिवादियों के आये हुये 153 विभिन्न प्रकरणों की सुनवाई की जिनमें से 11 प्रकरणों का मौके पर ही निस्तारण किया गया। जनसुनवाई के दौरान उन्होंने संबंधित ब्लॉक के अधिकारियों से वार्ता कर प्रकरणों का निस्तारण करवाने के निर्देश दिये।जिला कलक्टर ने जनसुनवाई आये हुये एक परिवादी का राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में नाम जोड़ने के लिये उपखण्ड अधिकारी जमवारामगढ़ को निर्देश दिये। उन्होंने ग्राम पंचायत रावरी में जल जीवन मिशन के तहत कोई कार्य नहीं किये जाने की शिकायत पर संबंधित अधीक्षण अभियंता ग्रामीण को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही अन्य परिवादी प्रेमदेवी के परिवाद को पहले जिला कलक्टर ने ध्यानपूर्वक सुना फिर संबंधित अधिकारी को सीमाज्ञान करने के निर्देश दिये। जनसुनवाई में जेडीए, पंचायतीराज एवं राजस्व संबंधी प्रकरण सबसे ज्यादा आए जिसको लेकर जिला कलक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को परिवाद का शीघ्र निस्तारण करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर फुलेरा विधायक निर्मल कुमावत, उप जिला प्रमुख मोहन लाल डागर सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

चिरंजीवी योजना में पात्र व्यक्तियों को पंजीकृत करने के लिए शिविर लगाए।

जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत पात्र व्यक्तियों को ज्यादा से ज्यादा लाभान्वित करने के लिये सरकारी एवं अन्य संस्थान में शिविर लगाकर ई-मित्र के माध्यम पंजीकृत करवाया जाना सुनिश्चित करें।जिला कलक्टर कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की मूलभूत सुविधाओं में सुधार किया जाये तथा सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर दवाइयों का वितरण सही समय पर हो यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि रोड एवं फुटपाथ पर रहने वाले कुपोषित बच्चों को चिन्हित किया जाए एवं उन्हें राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत लाभान्वित किया जाए।जिला कलक्टर ने मौसमी बीमारियों सहित डेंगू, चिकनगुनिया की प्रभावी रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु पुख्ता इंतजाम करने के भी निर्देश प्रदान किये। मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना के तहत जयपुर प्रथम की प्रगति रिपोर्ट सही नहीं आने पर चिन्ता व्यक्त करते हुये कहा कि आगामी दिनों में प्रगति रिपोर्ट में सुधार किया जाए। उन्होंने कोविड-19 टीकाकरण के तहत 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों को टीकाकरण कराने के निर्देश दिये। जिला कलक्टर ने बताया कि ‘कुष्ठ रोग खोजी अभियान‘ के तहत घर-घर जाकर 28 नवम्बर से 11 दिसम्बर तक संचालित किया जायेगा, जिसमें कुष्ठरोगी की पहचान कर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने मुख्यमंत्री निःशुल्क जांच योजना के तहत जिन अस्पतालों में जांच मशीनों का अभाव है उनमें जांच मशीन खरीदने के निर्देश दिये।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack