अधिकारी करें क्षेत्रों का दौरा, किए जा रहे कार्यों की समीक्षा भी करें निरंतर।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
सार्वजनिक निर्माण विभाग के प्रमुख शासन सचिव वैभव गालरिया ने प्रदेश भर में सड़कों के पेचवर्क, विभिन्न निर्माण कार्य, बजट घोषणाओं से जुड़े कार्यों में गति लाने के लिए अधिकारियों को ज्यादा से ज्यादा फील्ड विजिट करने और किए जा रहे कार्यों की स्थानीय स्तर पर निरंतर समीक्षा करने के निर्देश दिए हैं।गालरिया लोक निर्माण भवन में आयोजित समीक्षा बैठक को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पेच मरम्मत अभियान में पिछड़ रहे जिलों जैसे कोटा, जालोर, राजसमंद, सिरोही, बाड़मेर, बीकानेर जिलों में पेच मरम्मत कार्यों की प्रगति बढ़ाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने प्रतिदिन पेच मरम्मत के लक्ष्य निर्धारित करते हुए समस्त पेच कार्य को निर्धारित समयावधि में पूर्ण करने के भी निर्देश दिए। गालरिया ने संभागों के अधिकारियों से मुख्यमंत्री बजट घोषणाओं पर चर्चा की। उन्होंने घोषणाओं में किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए शेष बचे कार्यों को जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कार्यों के संपादन में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने बजट घोषणाओं में बेहतर कार्य करने के लिए बीकानेर जिले व संभाग की प्रशंसा व अन्य संभागों को भी कार्यों में गति रखने के निर्देश दिए। गालरिया ने कहा कि जिन शहरों में नई सड़कें स्वीकृत हुई है, उनके पेचवर्क करवाने की भी व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि निर्माण योजना के चलते सड़क की मरम्मत नहीं रुके। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष बजट जल्द आने की संभावना है, ऐसे में पुराने कार्यों को जल्द से जल्द करवाने के साथ उपखंड स्तर तक सरकारी भवनों में होने वाले कार्यों का एस्टीमेट भी बना लें ताकि बजट आते ही कार्यों का शुभारंभ बिना देरी के करवाया जा सके। बैठक में उच्च शिक्षा विभाग की महाविद्यालयों के भवनों के निर्माण कार्यों की भी समीक्षा की। इस दौरान उच्च शिक्षा सचिव भवानीसिंह देथा भी वीसी से जुड़े। बैठक में महाविद्यालयों की जमीन आवंटन, निर्माण कार्यों की गुणवत्ता सहित कई विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack