रेलवे ट्रैक पर हुए ब्लास्ट के मामले की उच्च स्तरीय जांच हुई शुरू, दोषी को मिलेगी सख्त सजा।

उदयपुर/जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
उदयपुर-अहमदाबाद रेल मार्ग पर केवड़ा की नाल स्थित ओढ़ा रेलवे पुल पर रेलवे ट्रैक पर हुए ब्लास्ट के मामले की उच्च स्तरीय जांच की जा रही है। इस पूरे घटनाक्रम के पीछे टेरर कनेक्शन है या नहीं इसकी भी जांच की जा रही है। इस मामले में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि दोषी को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।डीजीपी उमेश मिश्रा ने बताया की घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधिकारियों को मामले में त्वरित अनुसंधान कर कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। मामले में रेलवे अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। डीजीपी ने बताया कि मामले में केंद्रीय एजेंसियों से भी सहयोग लिया जा रहा है। रेलवे ट्रैक पर ब्लास्ट किया गया है इसे देखते हुए पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच की जा रही है। राजस्थान एटीएस, एनआईए और रेलवे पुलिस संयुक्त रूप से इस पूरे घटनाक्रम की गहनता से जांच में जुट गए हैं। पुलिस अधिकारियों से मामले में सजगता से कार्य कर आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने के निर्देश दिये गए हैं।

रेल मंत्री ने ली घटनाक्रम की पूरी जानकारी।

उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे ट्रैक पर हुए ब्लास्ट के प्रकरण को लेकर रेलवे अधिकारियों व पुलिस अधिकारियों से रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बातचीत कर पूरी जानकारी ली। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का कहना है कि जिस किसी भी व्यक्ति की ओर से यह अपराधिक कृत्य किया गया है, उसे किसी भी सूरत में नहीं बख्शा जाएगा। दोषी को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे घटनाक्रम की जांच के लिए सबसे बेहतर टीम को लगाया गया है और जल्द ही रेलवे ट्रैक को रिस्टोर करने के बाद उस पर फिर से ट्रेनों का आवागमन शुरू किया जाएगा। साथ ही उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम के बाद उदयपुर व आसपास के क्षेत्रों में रेलवे रूटों की निगरानी बढ़ाए जाने के निर्देश भी दिए हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack