बार-बार तबादलों से आहत होकर IAS सुधांशु पंत किया दिल्ली की ओर रुख।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान में अधिकारियों के तबादलों में मंत्रियों और विधायकों की जी हजूरी की चर्चा हमेशा बनी रहती है।आईएएस अधिकारियों में भी यह प्रवृत्ति अब आ गई है जो आईएएस अधिकारी मंत्री और विधायकों की सिफारिशों को नहीं मानता है उन्हें प्राइम पोस्टिंग पर नहीं लगाया जाता है। यही कारण है कि बार-बार हो रहे तबादलों से आहत अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांशु पंत जैसे अधिकारी ने दिल्ली की ओर रुख कर लिया है। उन्हें जहाजरानी मंत्रालय में सचिव के पद पर प्रतिनियुक्ति पर लगाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं और  वे 1 दिसंबर को राजस्थान प्रदेश को अलविदा कह कर चले जाएंगे। उनके पीछे कहानी यही है कि उन्हें बार-बार हटाया गया और एक अच्छे अधिकारी को काम नहीं करने दिया गया। 
इससे पहले भी सीधे आईएएस बने अधिकारी राजस्थान की जगह दिल्ली रहना पसंद भी करते हैं। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में 2 दर्जन से अधिक आईएएस अधिकारी राजस्थान की जगह दिल्ली में प्रतिनियुक्ति पर विभिन्न पदों पर तैनात है। उन्हें राजस्थान प्रदेश आना पसंद नहीं है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack