SMS मेडिकल कॉलेज में एंटी रैगिंग कमेटी का गठन।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जयपुर के एस एम एस मेडिकल कॉलेज ने एक आदेश जारी कर छात्र- छात्राओं की रैगिंग  रोकने के लिए एंटी रैगिंग कमेटी तथा एंटी रैगिंग दलों का गठन किया है। एस.एम.एस कॉलेज के प्रधानाचार्य एवं नियंत्रक ने बताया कि इन एंटी रैगिंग दलों में कॉलेज फैकल्टी के विभिन्न सदस्य, हॉस्टलों के वॉर्डन, सहायक विधि परामर्शदात्री, मनोवैज्ञानिक, शारीरिक शिक्षक, राज्य सरकार के प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस अधिकारी, एन. जी. ओ एवं मीडिया संवाददाता को शामिल किया है। उन्होंने बताया कि कॉलेज प्रशासन द्वारा छात्र- छात्राओं की रैगिंग रोकने के लिए एक शिकायत निवारण समिति का गठन भी किया गया है साथ ही जिला एवं पुलिस प्रशासन को कॉलेज एवं चिकित्सालय परिसर के आस- पास चारों तरफ निगरानी रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पुलिस कर्मियों द्वारा गश्त करने के लिए लिखा जा रहा है। रैगिंग को रोकने के लिए फैकल्टी संयोजक भी बनाया जा रहा है।उन्होंने बताया कि रैगिंग को रोकने के लिए सभी सीनियर छात्र-छात्राओं को 15 नवबंर से 30 नवंबर तक दो सप्ताह का अवकाश भी घोषित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि छात्र- छात्राओं  को पर्याप्त जानकारी उपलब्ध करवाने के लिए सेनिसेटाइजेशन कार्यक्रम एवं नए छात्र- छात्राओं के लिए स्वागत सत्र का आयोजन भी किया जाएगा।एस.एम.एस कॉलेज के प्रधानाचार्य एवं नियंत्रक ने बताया कि सवाई मानसिंह चिकित्सा महाविद्यालय में जयपुर में रैगिंग के कारण जो भी छात्र ग्रसित हो अथवा कोई शिकायत हो तो वह यू जी सी के टोल फ्री नंबर 1800-180-5522 या helpline@antragging.net एवं antiragging@nmc.org.in अथवा एसएमएस मेडिकल कॉलेज में स्थापित टोल फ्री नंबर 1800-180-6020 पर दर्ज करा सकते है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack