2022 को अलविदा और नववर्ष का स्वागत करने के लिए पर्यटकों से गुलजार हुआ रणथंभौर।

सवाई माधोपुर-हेमेंद्र शर्मा।
शीतकालीन छुट्टियों सहित नए साल के आगमन को लेकर सवाई माधोपुर स्थित रणथंभौर इन दिनों पर्यटकों से पूरी तरह गुलजार है । बड़ी संख्या में देशी विदेशी सैलानी रणथंभौर भ्रमण के लिए यह पहुंच रहे है। पर्यटकों की भारी भीड़ के चलते जहाँ रणथंभौर की ऑनलाइन बुकिंग आगामी करीब 15 दिनों तक फूल है वही रणथंभौर के तमाम होटल एंव रेस्तरां भी फुल हो चुके है।
दरअसल बाघों की स्वछंद अठखेलियों को लेकर विश्व स्तर पर रणथंभौर की अपनी एक अलग ही पहचान है । यही वजह है कि रणथंभौर में साल भर देशी विदेशी पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहता है । रणथंभौर में पर्यटन के लिहाज़ से दिसम्बर एंव जनवरी माह बेहद खास रहता है।इन दो माह में रणथंभौर में भारी संख्या में पर्यटक यहां भ्रमण पर आते है। हाल ही में शीतकालीन छुट्टियों एंव नए साल के आगमन को लेकर इन दिनों रणथंभौर पर्यटकों से गुलजार है । इन दिनों भारी संख्या में देशी विदेशी सैलानी रणथंभौर पहुंच रहे है।जिसकी वजह से रणथंभौर की ऑनलाइन बुकिंग आगामी कुछ दिनों के लिए पूरी तरह से फूल चल रही है।
वहीं रणथंभौर के तमाम होटल एंव रेस्तरां भी पर्यटकों से आबाद है । लेकिन अचानक रणथंभौर आने वाले सैलानियों को यहाँ सफारी के लिए टिकिट नही मिलने से कई सैलानी मायूस भी है और उन्हें बिना रणथंभौर भ्रमण के ही वापस लौटना पड़ रहा है। दरअसल वन विभाग द्वारा रणथंभौर की सफारी बुकिंग को पिछले कुछ सालों से पूरी तरह से ऑनलाइन कर दिया गया । ऐसे में रणथंभौर भ्रमण पर आने वाले जिन पर्यटकों ने पहले से ही अपनी सफारी बुकिंग ऑनलाइन करवा रखी है वे सैलानी तो रणथंभौर सफारी कर बाघों की स्वछंद अठखेलियां देख रोमांचित हो रहे है।लेकिन जिन सैलानियों ने अपनी ऑनलाइन बुकिंग पहले नही करवाई ओर वे अचानक रणथंभौर भ्रमण पर आ गए उन्हें रणथंभौर सफारी के टिकिट नही मिल पा रहे है । ऐसे में सैंकड़ो सैलानी रणथंभौर भ्रमण पर नही जा पा रहे है और वे मायूस होकर ही रणथंभौर से लौट रहे है ।
पर्यटकों की भीड़ को लेकर वन विभाग  अलर्ट।
शीतकालीन छुट्टियों एंव नए साल के आगमन को लेकर  रणथंभौर पर्यटकों से आबाद है। रणथंभौर में बढ़ती पर्यटकों की भीड़ को लेकर वन विभाग भी पूरी तरह से अलर्ट है।वनाधिकारियों की माने तो इन दिनों रणथंभौर का पर्यटन चरम पर है और प्रतिदिन हजारों की संख्या में सैलानी रणथंभौर पहुंच रहे है । वन अधिकारियों के अनुसार इन दिनों रणथंभौर में नियमानुसार निर्धारित करीब 140 वाहन प्रति पारी रणथंभौर भ्रमण पर भेजे जा रहे है । लेकिन वाहनों की संख्या निर्धारित होने के कारण कई पर्यटक रणथंभौर भ्रमण से वंचित रह जाते है । वनाधिकारियों का कहना है कि वन विभाग द्वारा रणथंभौर में वाहनों की संख्या निर्धारित की गई है । निर्धारित संख्या से अधिक वाहन रणथंभौर में सफारी के लिए नही भेजे जा सकते।ऐसे में जो पर्यटक बिना कन्फर्म ऑनलाइन बुकिंग के रणथंभौर आ रहे है ,उन्हें टाईगर सफारी नही मिल पा रही और ऐसे सैंकड़ो पर्यटक मायूस ओर निराश होकर वापस लौट रहे है । रणथंभौर में शीतकालीन छुट्टियों और नए साल को लेकर बढ़ते पर्यटन के मध्यनजर वन विभाग भी पूरी तरह से अलर्ट मोड़ पर है । और सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त है । लेकिन पर्यटकों की लगातार बड़ती भीड़ के चलते कई पर्यटक पार्क भ्रमण पर नही जा पा रहे वे पर्यटक खासा मायूस नजर आ रहे है । 

पर्यटकों को हर जोन में टाईगर के हो रहे है दीदार।

रणथंभौर में जहाँ इन दिनों पर्यटकों की भरमार है। वही पार्क भ्रमण पर जाने वाले पर्यटकों को भी रणथंभौर के प्रत्येक जोन में जमकर टाईगर साइटिंग हो रही है । इन दिनों पर्यटक जिस भी जोन में टाईगर सफारी के लिए जंगल जा रहे है उन्हें हर जोन में टाईगर के खूब दीदार हो रहे है। टाईगर के साथ ही सैलानियों को टाईगर शावकों व भालू सहित अन्य वन्यजीवों के भी दीदार हो रहे । विभागीय अधिकारियों के मुताबिक आगामी करीब 15 दिनों तक रणथंभौर में पर्यटन चरम पर रहेगा और हजारों की संख्या में सैलानी रणथंभौर भ्रमण करेंगे। वही नए साल के मौके पर सैलानियों की संख्या में ओर भी इजाफा होने की उम्मीद है ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack