सतीश पूनिया ने की 25 किलोमीटर पैदल यात्रा, गहलोत सरकार पर लगाए गंभीर आरोप।

करौली ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां करौली दौरे पर रहे। जहा प्रदेशाध्यक्ष ने कैलादेवी के दर्शन एवं पूजा अर्चना कर
जन आक्रोश यात्रा निकालते हुए करौली के मदनमोहनजी मन्दिर तक 25 किलोमीटर पैदल चले। इस दौरान पूनिया ने कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला। इस दौरान सतीश पूनियां ने जन आक्रोश यात्रा में आमजन से जनसंपर्क और  संवाद कर कांग्रेस की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ पत्रक वितरित किये। बता दे, कि सतीश पूनियां ने पिछले दिनों भी जयपुर, आमेर, पाली, भरतपुर, झुंझुनूं, सीकर, नागौर इत्यादि जिलों में भी जनाक्रोश यात्रा में पैदल चलकर आमजन से संवाद किया।
25 किलोमीटर तक चले पैदल।
जनाक्रोश पदयात्रा के दौरान सतीश पूनियां ने पैदल चलकर पेट्रोल पंप कैलादेवी, खोहरी मोड़, मोहनपुरा मोड, अतेवा मोनी बाबा आश्रम, राजौर, करसाई, मामचारी, कल्याणी, गंगापुर मोड़, गदका की चौकी, तीनबड़ सहित विभिन्न गांवों में पैदल चलते हुए शाम को मदन मोहन जी मंदिर में दर्शन किये और प्रदेश की खुशहाली व उन्नति की कामना की। इस दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया करीब 25 किलोमीटर तक पैदल यात्रा करके मदन मोहन जी मंदिर में पहुंचे।
जमीन पर बैठकर किया भोजन।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने सपोटरा और करौली विधानसभा क्षेत्रों के गांवों में आमजन, युवाओं और माता बहनों से संवाद किया, इस दौरान बड़ी बुजुर्ग माता बहनों ने सतीश पूनियां को खूब प्यार और आशीर्वाद दिया और सपोटरा विधानसभा क्षेत्र के लोगों ने अपने हाथ से बनाई हुई बाजरे की रोटी और चटनी खिलाई। सपोटरा विधानसभा क्षेत्र में सतीश पूनियां ने जमीन पर बैठकर भोजन किया, जहाँ बुजुर्ग माता बहनों ने स्थानीय लोकगीत गाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राजस्थान में 2023 और 2024 में केंद्र में भाजपा की सरकार बनाने के लिए आशीर्वाद दिया और 2023 में कांग्रेस को सत्ता से उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया। इस दौरान अतेवा मोनी बाबा आश्रम में परम संत मोनी बाबा से मुलाकात कर पूनियां ने आशीर्वाद लिया। सतीश पूनियां ने कहा कि, कांग्रेस सरकार की विफलताओं और केंद्र की मोदी सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को घर घर तक पहुंचाने के लिए जन आक्रोश रथ यात्रा 200 विधानसभा क्षेत्रों में निकाली जा रही है। उन्होंने कहा कि, कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार के शासन में प्रदेश में अराजकता और अपराध लगातार बढ़े हैं।प्रदेश की कांग्रेस सरकार निरंकुश होकर काम कर रही है, जिससे जनता त्रस्त है।आगामी विधानसभा चुनाव 2023 में जनता इस जनविरोधी गहलोत सरकार को विदा कर देगी, जिसने किसानों से कर्जमाफी के नाम पर और युवाओं से पेपर लीक, लंबित भर्तियां, बेरोजगारी भत्ता इत्यादि को लेकर वादाखिलाफी की है। कांग्रेस शासन में किसानों से कर्जमाफी के नाम पर झूठा वादा करने के साथ ही 18 हजार से अधिक किसानों की जमीनों की नीलामी हो चुकी हैं, जिससे प्रदेश का किसान अवसाद में है और कई जिलों में किसान सुसाइड कर चुके हैं। 
बहुसंख्यकों को टारगेट कर किया गया प्रताड़ित।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने  कहा कि कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार की तुष्टीकरण की राजनीति के कारण करौली, भीलवाड़ा, उदयपुर और जोधपुर इत्यादि जिलों में बहुसंख्यकों को टारगेट कर प्रताड़ित किया गया और हिंदू नववर्ष और रामनवमी पर जुलूसों पत्थरबाजी की गई, और कांग्रेस सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। वहीं कोटा में हिजाब के मामले पर प्रतिबंधित आतंकवादी एवं अराजक संगठन पीएफआई की रैली को अनुमति दी गई, यह कांग्रेस सरकार की तुष्टीकरण और वोट बैंक की राजनीति है, राज्य सरकार के संरक्षण में पूरे राजस्थान में बहुसंख्यकों को प्रताड़ित किया जा रहा है। हमले किए जा रहे हैं, इसका जवाब 2023 में  प्रदेश की जनता अभी से देने को तैयार बैठी है और कांग्रेस सरकार को सत्ता से हमेशा के लिए उखाड़ फेंकने को तैयार है। इस दौरान पुनिया ने करौली के बंसी का बाग बरखेड़ा स्कूल में मूक बधिर बच्चों से मुलाकात की, उनकी पढ़ाई व अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। इस अवसर पर भाजपा जिला अध्यक्ष बृजलाल डिकोलिया, प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश दाधीच, युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु शर्मा, भाजपा नेता अशोक धाबाई, कैलाश चंद शर्मा, धीरेंद्र बैंसला, मीडिया प्रभारी मुकेश सालौत्री सहित हजारों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack