आरोग्य मेले मे 2683 लोगों ने उठाया लाभ।

श्रीगंगानगर-राकेश मितवा।
सेठ गोपी राम गोयल बगीची में राज्य सरकार के निर्देशानुसार चार दिवसीय आरोग्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। आरोग्य मेले के दूसरे दिन मेले में 4231 लोगों के द्वारा भ्रमण किया गया और आरोग्य मेले में विभिन्न सुविधाओं का 2683 लोगों ने लाभ उठाया। आयुर्वेद विभाग के अतिरिक्त निदेशक डॉ. नरेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि आरोग्य मेले को लेकर आमजन में काफी उत्साह है तथा आरोग्य मेले में ज्यादा लोग लाभ ले रहे हैं। आरोग्य मेले को सफल बनाने में संभाग स्तरीय चिकित्सा कर्मियों और नर्सिंग कर्मियों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। उन्होने बताया कि मेले के दूसरे दिन केंद्रीय विद्यालय और यूरो वर्ल्ड के विद्यार्थियों ने चिकित्सा कर्मियों और नर्सिंग कर्मियों से विभिन्न जानकारियां ली। विद्यार्थियों का कहना है कि उनके जीवन में यह ऐसा पहला मेला है, जिसमें उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी भरपूर जानकारियां दी जा रही हैं। आयुर्वेद विभाग के उपनिदेशक डॉ. राजकुमार पारीक ने बताया कि आरोग्य मेले के दूसरे दिन मेले में पहुंचे विद्यार्थियों और बच्चों के लिए क्विज प्रतियोगिता का भी आयोजन करवाया गया। क्विज प्रतियोगिता में स्वास्थ्य संबंधी प्रश्न पूछे गए और बेहतरीन जवाब देने वाले विद्यार्थी को आयुर्वेद विभाग की ओर से सम्मानित किया गया। डॉ. पारीक ने बताया कि इस आरोग्य मेले में आयुर्वेद में 1428, होम्योपैथिक में 283, यूनानी में 252, अग्निकर्म चिकित्सा में 81, मर्म चिकित्सा में 51 रोगियों का परीक्षण कर इलाज किया गया।आरोग्य मेले में 125 लोगों का प्रकृति परीक्षण भी किया गया। साथ ही प्रकृति के अनुसार उन्हें खानपान संबंधी जानकारी दी गई। मेले के दूसरे दिन प्रातः 7 बजे से योग कक्षाएं लगाई गई। योग कक्षाओं में 279 लोगो को योग के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए योग करवाया गया। डॉ. दलीप कुमार ने बताया कि इन लोगों के अतिरिक्त 0 से 5 साल के 189 बच्चों को स्वर्णा प्राशन का सेवन करवाया गया तथा 96 रोगियों की बीएमडी की निःशुल्क जांच की गई। उन्होने बताया कि आरोग्य मेले के तीसरे दिन भी बीएमडी की जांच पूर्णतया निःशुल्क की जाएगी। सेवानिवृत्त चिकित्सक डॉ. ओम पारीक ने आयुर्वेद और स्वस्थ जीवन शैली के बारे में बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। डॉ. प्रमोद कुमार ने आयुर्वेद एवं प्राकृतिक चिकित्सा अधिकारी ने योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा से संपूर्ण स्वास्थ्य लाभ लेने के विषय पर व्याख्यान दिया। आरोग्य मेले के सफल आयोजन को लेकर लोगों के बढ़ते रुझान को देखते हुए विभाग के द्वारा सांस्कृतिक संध्या का भी आयोजन किया जा रहा है। सांस्कृतिक संध्या में बुधवार को कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। कवि सम्मेलन में कवियों ने अपनी कविताओं से आमजन को मंत्रमुग्ध किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack