सिलेंडर ब्लास्ट केस मे मृतकों की संख्या हुई 33, विशेष पैकेज की मांग को लेकर आज निकाली जाएगी विशाल रैली।

जोधपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
जोधपुर जिले के शेरगढ़ तहसील क्षेत्र के भूंगरा गांव में गैस सिलेंडर दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को विशेष पैकेज देने की मांग को लेकर महात्मा गांधी अस्पताल मे लगातार धरना जारी है। शनिवार को संघर्ष समिति और प्रशासन के बीच वार्ता के कई दौर हुए, लेकिन देर शाम तक वार्ता विफल हो गई जिसके बाद रविवार सुबह एमजीएच मोर्चरी से जिला कलेक्टर कार्यालय तक विशाल रैली निकाल प्रदर्शन करने का एलान किया गया है।इस रैली में जोधपुर में बीकानेर संभाग के हजारों लोग शरीक होंगे। लोग काले झंडे लेकर भी चलेंगे। संघर्ष समिति के त्रिभुवन सिंह भाटी ने बताया कि शनिवार तीसरे दिन के धरने में प्रशासनिक अधिकारियों ने धरनास्थल पर आकर संपर्क किया। वार्ता भी हुई, लेकिन प्रशासन की हठधर्मिता बनी रही। कोई सकारात्मक वार्ता नहीं हुई। जब तक विशेष पैकेज की घोषणा नहीं हो जाती, धरना जारी रहेगा। रविवार को जोधपुर और बीकानेर संभाग के कई पूर्व विधायक सहित पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी के भी रैली में शामिल होंगे।इस धरने को लगातार अन्य समाजों का भी समर्थन मिल रहा है। शनिवार को विश्नोई समाज के प्रतिनिधि यहां पहुंचे। रविवार की रैली में बड़ी संख्या में सभी समाज के लोग भी शामिल होंगे। बता दे, कि गत गुरुवार को भूंगरा निवासी सगत सिंह के पुत्र सुरेंद्र सिंह की बारात रवाना होने से ठीक पहले एलपीजी सिलेंडर के ब्लास्ट होने से 52 लोग झुलस गए जिनमें से अब तक 33 की मौत हो चुकी है।
मोर्चरी में 7 शव, धरना जारी।
एमजीएच अस्पताल में सर्व समाज की भागीदारी में धरना गुरुवार से शुरू हुआ। धरना लगातार जारी है। मृतकों के परिजनों ने मोर्चरी में रखी शवों को लेने से इनकार कर दिया व उनके द्वारा इस दुर्घटना के लिए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा विशेष पैकेज दिए जाने की मांग की जा रही है। समिति ने मृतक के परिजनों को 50 लाख रुपए देने की मांग रखी है, जिस पर सहमति नहीं बनी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack