500 ₹ में सिलेंडर देने को भाजपा ने बताया चुनावी झुनझुना।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान की बीपीएल महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत अब अगले साल एक अप्रैल से 500 रुपए में रसोई गैस सिलेंडर मिलेगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अलवर में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा की सभा में इसकी घोषणा की। सीएम की इस घोषणा के साथ ही प्रदेश में सियासी बयानों के दौर भी शुरू हो गए। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सीएम गहलोत की इस घोषाण पर हमला करते हुए कहा कि ये घोषणा भी उसी तरह साबित होगी, जैसे युवाओं को रोजगार और 10 दिन में किसानों की कर्ज माफी झूठी साबित हुई। राठौड़ ने कहा कि राज्य में अपने खिसकते जनाधार और जन आक्रोश से घबराए गहलोत ने युवराज राहुल गांधी के सामने रसोई गैस सिलेंडर देने की घोषणा का झुनझुना बजाया है। राजस्थान विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने ट्वीट कर कहा कि राज्य में अपने खिसकते जनाधार और जन आक्रोश से घबराए मुखिया अशोक गहलोत ने युवराज राहुल गांधी के सामने 1 अप्रैल से 500 रुपए में रसोई गैस सिलेंडर देने की घोषणा का झुनझुना तो बजा डाला है, लेकिन घोषणावीर की यह घोषणा भी युवाओं को रोजगार और 10 दिन में किसान कर्ज माफी जैसी झूठी साबित होगी। राठौड़ ने कहा कि कांग्रेस ने अपने नीतिगत दस्तावेज जन घोषणा पत्र के पृष्ठ सं. 38 के बिन्दु सं. 49 में महंगाई नियंत्रण के लिए आवश्यक और प्रभावी कदम उठाए जाने की घोषणा की थी। मुखिया अब तक 4 बजट पेश कर चुके हैं। ऐसी क्या मजबूरी रही है कि 4 साल बाद चुनावी साल नजदीक आते ही अब जाकर गरीबों की चिंता उन्हें सता रही है? उन्होंने कहा कि अगर मुखिया अशोक गहलोत को सच में गरीब माताओं-बहनों की चिंता थी तो जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मई 2022 में PM उज्ज्वला योजना के करीब 9 करोड़ लाभार्थियों को गैस सिलेंडर पर 200 रुपए सब्सिडी दिए जाने का निर्णय लिया था, तब 500 रुपए में सिलेंडर देने का ऐलान क्यों नहीं किए?

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack