सीएम गहलोत ने शांति एवं अहिंसा निदेशालय मे 62 पद सृजन को दी मंजूरी।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
बेरोजगारों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश में शांति एवं अहिंसा निदेशालय और जिला प्रकोष्ठों में 62 पदों का सृजन किया गया है। सीएम गहलोत ने कार्य संचालन के लिए नए पद सृजित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। प्रस्ताव के अनुसार इसमें 59 पद स्थायी और 03 पद प्रतिनियुक्ति के जरिए भरे जाएंगे। इनके अलावा निदेशालय और जिला प्रकोष्ठ स्तर पर 35 संविदाकर्मी, 33 होमगार्ड एवं 09 भूतपूर्व सैनिक भी विभिन्न माध्यमों से नियुक्त किए जाएंगे। सीएम गहलोत की मंजूरी से निदेशालय स्तर पर स्थाई नियुक्तियों में वरिष्ठ सलाहकार (गांधी दर्शन विशेषज्ञ) के 2 पद, कार्यक्रम समन्वयक (प्रशिक्षण) के 3 पद, प्रतिनियुक्ति पर पुस्तकालयाध्यक्ष, पुस्तकालय सहायक एवं सहायक जनसंपर्क अधिकारी का एक-एक पद सृजित किया गया है। राज्य सरकार के प्रस्ताव के अनुसार, जिला शांति एवं अंहिसा प्रकोष्ठ के लिए प्रत्येक संभाग स्तर पर स्थाई नियुक्ति में कार्यक्रम समन्वयक और शोध संदर्भ सहायक का एक-एक पद और गांधी दर्शन विशेषज्ञ के दो-दो पदों का सृजन किया है। साथ ही, शेष 26 जिला मुख्यालय स्तर पर गांधी दर्शन विशेषज्ञ का 1-1 पद सृजित किया गया है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचारों एवं सिद्धांतों, देश हित में अमूल्य योगदान और उनके कार्यों की जानकारी नई पीढ़ी तक पहुंचाने के लिए राजस्थान एवं देश में पहला शांति एवं अहिंसा विभाग का गठन किया गया। विभाग में नए पदों के सृजन से कार्यक्रमों को और अधिक बेहतर तरीके से आयोजन किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack