रूहानी गीतों के साथ पाँच दिवसीय प्रदर्शनी का समापन।

जयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राज्य सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा जवाहर कला केन्द्र में जनसेवा सबका सम्मान आगे बढ़ता राजस्थान थीम पर शुरू हुई राज्य स्तरीय विकास प्रदर्शनी का समापन लोगो के ज़बरदस्त उत्साह के बीच हुआ। पाँच दिवसीय प्रदर्शनी में बड़ी संख्या में विजिटर्स ने प्रदर्शनी का अवलोकन कर राज्य सरकार द्वारा संचालित की जा रहीं जनकल्याणकारी योजनाओं एवं विकास कार्यों के बारे में क्विज एवं पजल गेम्स के माध्यम से जानकारी प्राप्त की। खास तौर से युवाओं एवं विद्यार्थियों की भागीदारी इन पांच दिनों में बड़ी संख्या में देखने को मिली। प्रदर्शनी में गत पांच दिनों में हज़ारो की संख्या में विजिटर्स ने पहुंचकर विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई स्टॉल्स का अवलोकन कर राज्य सरकार के स्टेट फ्लैगशिप कार्यक्रम महत्वपूर्ण निर्णय एवं उपलब्धियांजन घोषणा पत्र क्रियान्विति रिपोर्ट एवं सफलता की कहानियां आदि साहित्य निःशुल्क प्राप्त किए। समापन समारोह में राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद के सचिव जी एल शर्मा ने प्रदेश की खेल नीति और उसकी उपलब्धियों के साथ-साथ राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मैडल प्राप्त खिलाड़ियों को राज्य सरकार द्वारा आउट ऑफ टर्न पॉलिसी के तहत दी जा रही सरकारी नौकरियों की जानकारी आगंतुकों से साझा की। प्रदर्शनी की समापन संध्या सूफी प्रेमियों के नाम रही। समापन संध्या में सूफी गायक रहमान हरफ़न मौला एंड पार्टी ने सूफियाना संगीत की सरिता बहाई जिक्र ए इलाही जैसे सूफियाना कलमों से शुरू हुई इस खूबसूरत शाम में भर दो झोली दमा दम मस्त कलंदर और छाप तिलक जैसे गीतों ने समा बांधा। समापन संध्या में मुख्य अतिथि जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष पुखराज पाराशर एवं विशिष्ट अतिथि ओबीसी वित्त एवं विकास कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष पवन गोदारा जयपुर ज़िला कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित एवं राज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक डॉ. दीप नारायण पांडे रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack