वरिष्ठ अध्यापक का पेपर लीक करने वाला मास्टरमाइंड चढ़ा पुलिस के हत्थे।

उदयपुर ब्यूरो रिपोर्ट।
राजस्थान लोक सेवा आयोग की तरफ से शनिवार को आयोजित सेकेंड शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने की वजह से रद्द कर दिया गया है। वहीं, अब इस मामले में मास्टरमाइंड सुरेश के साथ अन्य चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।मास्टरमांइड सुरेश जोधपुर का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि इसके संग पांच लोग इस पूरे मामले में शामिल थे। पुलिस ने 44 और लोगों को गिरफ्तार किया है। जिनमें 7 लड़कियां बताई जा रही है। बता दें, कि आरपीएससी एग्जाम का आयोजन शनिवार सुबह 9 बजे किया जाना था। शनिवार को सामान्य विज्ञान विषय का एग्जाम था। इसी बीच, उदयपुर शहर में होने वाले एग्जाम को लेकर जानकारी आई कि वहां सेकेंड ग्रेड टीचर भर्ती एग्जाम का पेपर लीक हो गया है। इसके बाद प्रशासन ने आनन-फानन में एग्जाम को रद्द करने का फैसला किया। फिलहाल पुलिस और एसओजी को आदेश दिया गया है कि वे पेपर लीक मामले की जांच करें।
राजस्थान पुलिस लिखेगी आरपीएससी को पत्र।
तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती पेपर उदयपुर में लीक होने के बाद डीजीपी उमेश मिश्रा का कहना है कि प्रदेश में भर्ती परीक्षाओं को स्वच्छ एवं निष्पक्ष ढंग से करवाने के लिए राजस्थान पुलिस तत्पर है। पुलिस की सजगता और सतर्कता के चलते ही नकल कराने वाले गिरोहों को निरंतर पकड़ा जा रहा है। मिश्रा ने बताया की रीट पेपर लीक करने वाले गिरोह की तरह ही इस बार द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती पेपर लीक करने वाले नकल गिरोह को शिकंजे में लेकर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मिश्रा ने बताया की नकल करने का प्रयास करने वाले अभ्यर्थियों को डिबार करने के लिए राजस्थान लोक सेवा आयोग को पत्र लिखा जा रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

ARwebTrack